बीमार सास के गुजर जाने के बाद बहू मना रही थी जश्न, पति को आया गुस्सा और दे दी यह सजा

35

नई दिल्ली। इंसान को कभी भी किसी दूसरे के गम पर हंसना नहीं चाहिए और ना ही उसका मजाक बनाना चाहिए क्योंकि हो सकता है कि हमारा यह व्यवहार हम पर ही भारी पर जाए। इंसान जब दुखी होता है तो उसका खुद पर उतना वश नहीं होता है और इसलिए गुस्से में वह कभी-कभार कुछ उल्टा बोल देता है या न चाहते हुए भी बुरा बर्ताव कर देता है। इन सभी कारणों के चलते अगर आसपास कोई व्यक्ति किसी वजह से परेशान है तो उसे समझने की कोशिश करनी चाहिए, बिना बात के उस व्यक्ति के सामने मजाक इत्यादि भी करने से बचना चाहिए।

हाल ही में पश्चिमी महाराष्ट्र के कोल्हापुर में कुछ ऐसा हुआ जिसके बारे में जानकर यह पता लग जाएगा कि ऊपर बताई गई बातें किस हद तक सही है। दरअसल, यहां एक पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी और अब उसने अपने जुर्म को पुलिस के सामने कबूल भी लिया है।

आरोपी पति का नाम संदीप लोखंडे है और उसकी पत्नी का नाम शुभांगी लोखंडे (35) है। संदीप की मां (70) का निधन हाल ही में हुआ था। मां के गुजरने के बाद उसकी पत्नी काफी खुश दिखाई दे रही थी। संदीप से उसका बर्ताव सहा नहीं गया और उसने अपनी बीवी को मार डाला।

मां के जाने के गम से दुखी संदीप को अपनी पत्नी के व्यवहार पर गुस्सा आया। उसकी बीवी खुशी मना रही थी। संदीप ने क्रोध में आकर शुभांगी को दूसरी मंजिल से ढकेल दिया। पिछले शनिवार को हुई इस घटना को देखकर हर कोई हैरान था।

पुलिस का ऐसा कहना है कि यहां की स्थानीय मीडिया में खबरें आयी थी कि अपनी सास की मौत से दुखी होकर शुभांगी ने अपनी जान दे दी थी। जब मामला थोड़ा संदेहजनक लगा तो जूना रजवाड़ा थाने के अधिकारियों को इस मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया।

छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि संदीप ही हत्यारा है और यह कोई सुसाइड केस नहीं है। संदीप ने आप्टेनगर उपनगर में स्थित अपने मकान के दूसरी मंजिल की बालकनी से अपनी बीवी को नीचे धकेल दिया जिससे उसकी मौत हो गई। संदीप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उसने अपना अपराध मान लिया है।

बीते शनिवार की सुबह बीमार सास की मौत पर शुभांगी काफी खुश दिख रही थी और उसके इसी बर्ताव की वजह से संदीप खफा हो गया और उसे मार डाला।