अंतरिक्ष की उड़ान भरने वाले पहले शख्स की हुई थी रहस्यमयी मौत, लोग बोले एलियंस का है हाथ लेकिन…

11

नई दिल्ली। यूरी गागरिन Yuri Gagarin वह पहले शख्स थे जिन्होंने अंतरिक्ष की यात्रा की थी। यात्रा के 7 साल बाद उनकी एक प्लेन दुर्घटना में मौत हो गई। उनकी मौत के बाद सबके ज़ेहन में यह सवाल था कि इतना अनुभवी पायलट एक रूटीन फ्लाइट में कैसे मर सकता है। यूरी गागरिन की मौत जिस तरह से हुई थी उससे कई सवाल खड़े होते हैं। इतिहास रचने वाले यूरी गागरिन अंतरिक्ष में जाने से पहले सोवियत एयर फोर्स में पायलट थे। अंतरिक्ष की यात्रा से आने बाद उन्होंने फिर से सोवियत एयर फोर्स के लिए काम करना शुरू कर दिया। मार्च 27, 1968 को वह मिग-15 MIG-15 से प्रैक्टिस पर निकले थे। उड़ने के तीन मिनट में ही उन्होंने प्रैक्टिस पूरी कर ली। यूरी बेस की तरफ बढ़ ही रहे थे जब रेडियो से उनका कनेक्शन टूट गया।

 

yuri gagarin

रेस्क्यू टीम को करीब एक घंटे बाद ज़मीन पर एक जलता हुआ विमान मिला। विमान की हालत देखकर लग रहा था कि उसमें सवार बचा नहीं होगा। जहाज के मलबे में यूरी नहीं थे जिससे टीम को उनके बच जाने के पूरे आसार नज़र आ रहे थे, लेकिन एक दिन बाद रेस्क्यू टीम को जो मिला उस पर किसी को यकीन नहीं हो रहा था। यूरी गागरिन के अवशेष मिलने पर सबको यकीन हो गया कि वह अब इस दुनिया में नहीं रहे। हादसे की जांच की गई तो पता चला कि विमान पायलट की गलती से दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। जांच में पता चला कि पायलट किसी चीज को बचाने की कोशिश कर रहा था तभी जहाज ने संतुलन खो दिया और यह हादसा हो गया। इसके बाद बहुत सी बातें सामने आने लगीं। कुछ लोगों का कहना था कि यूरी गागरिन ने उड़ान के समय शराब पी रखी थी। किसी ने कहा कि उनके विमान से कोई UFO टकराया होगा।

 

yuri gagarin with pt nehru

साथ कई लोगों ने यह शक भी जताया कि उनकी हत्या की गई होगी। इन सब बातों में कितना सच है यह तो नहीं मालूम, लेकिन उस समय इस तरह की बातें खूब हो रही थीं। हैरान कर देने वाली बात तो यह भी है कि कई लोगों ने यह भी दावा किया था कि उन्होंने यूरी गागरिन को ज़िंदा देखा है, लेकिन इन सब दावों का कोई सबूत नहीं मिला था।