बस लाइट ऑन-ऑफ करने के मिल रहे 1 लाख 62 हजार रुपए महीना, इस रेलवे स्टेशन ने निकाली अनोखी भर्ती

5

नई दिल्ली। कम से कम काम करके ज्यादा पैसा मिले तो क्या खराबी है, लेकिन ऐसा मौका बहुत कम मिलता है। अब कोई आपसे यह कहे कि आपको बस लाइट ऑन-ऑफ करने की सैलरी 1 लाख 62 हजार रुपए मिलेगी तो यकीन करना मुश्किल होगा। यह कोई मज़ाक नहीं है। लाइट ऑन-ऑफ करने का यह काम स्वीडन के गोथेनबर्ग के एक रेलवे स्टेशन में है।

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस काम के लिए दुनियाभर से लोग आवेदन दे सकते हैं। खास बात यह है कि इस काम के लिए किसी खास योग्यता की भी ज़रूरत नहीं है। इस पोस्ट के लिए साल 2025 से आवेदन लिए जाएंगे और लोगों की नियुक्ति 2026 से शुरू होगी। बता दें कि 2026 में यह रेलवे स्टेशन पूरा बनकर तैयार हो जाएगा। न्यू कोर्सवागेन ट्रेन स्टेशन के डिजाइन के लिए एक प्रतियोगिता रखी थी।

नौकरी का विवरण

साइमन गोल्डिन और जैकब सेनेबी नाम के दो कलाकारों ने इस प्रतियोगिता को जीतकर 4.50 करोड़ रुपए का इनाम अपने नाम किया था। इन दोनों कलाकारों ने जीती हुई राशि को खुद पर न खर्च करके कर्मचारी के लिए वैकेंसी निकाली है क्योंकि रेलवे स्टेशन में कोई और काम बचा नहीं था इस वजह से लाइट को जलाने और बुझाने का एक पद बनाया गया। इस काम को करने वाले को बस प्लेटफार्म पर लगी लाइट को ड्यूटी शुरू होने पर जलाना है और ड्यूटी खत्म होने पर बुझाना। गोल्डिन और जैकब ने पुरस्कार राशि से ही कर्मचारी को वेतन देने का फैसला किया है। उनका कहना है कि वह पुरस्कार में जीते पैसों का किसी सही जगह निवेश करेंगे जिससे नियुक्त किए गए कर्मचारियों के वेतन का प्रबंध हो सके। उनका मानना है कि निवेश से जो रिटर्न प्राप्त होगा उसी से कई सालों तक कर्मचारियों को वेतन मिलता रहेगा। गौरतलब है कि अभी इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि इस पद के लिए कितनी भर्तियां होनी हैं।

0 Shares