महिला के पेट पर मुंह लगाकर बाबा कर रहा था इलाज, बढ़ने लगा दर्द तो सामने आई यह सच्चाई

10

नई दिल्ली। विज्ञान के इस युग में मेडिकल साइंस काफी आगे बढ़ चुका है। कई कठिन रोगों का इलाज भी आज के जमाने में उपलब्ध है, लेकिन इसके बावजूद लोग डॉक्टर्स के बजाय बाबाओं के पास जाना ज्यादा बेहतर मानते हैं। अंधविश्वास से घिरे इन लोगों का फायदा उठाकर इस तरह के बाबा समाज में फल फूल रहे हैं। हाल ही में कुछ ऐसा हुआ जिससे एक बार फिर से यह साफ हो गया कि विज्ञान के इस जमाने में अंधविश्वास की कोई जगह नहीं है।

 

ढोंगी बाबा

दरअसल हुआ कुछ यूं कि हाल ही में एक महिला पेट दर्द का इलाज कराने के लिए एक बाबा के पास गई। बाबा सबसे पहले महिला को जमीन पर लिटाता है और इसके बाद मंत्रोच्चारण करने लगता है। बाबा इलाज के लिए पेट पर त्रिशूल से एक निशान बना देता है। अंत में महिला के पेट पर मुंह लगाकर पत्थर निकालता है और कहता है कि अब वह ठीक हो गई है। इस इलाज के एवज में बाबा 5 हजार रुपये लेता है।

 

ढोंगी बाबा

बाबा से पेट दर्द का इलाज कराने के बाद महिला अपने घर चली जाती है। कुछ समय बाद उसके पेट में भयंकर दर्द होना शुरू हो जाता है और तो और देखते ही देखते पेट में भयानक सूजन भी आ गई। महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए परिजन उसे नागपुर लेकर गए। वहां महिला को एक अस्पताल में तुरंत एडमिट कराया गया।

जांच के बाद डॉक्टरों ने पाया कि उसके पेट में एक बड़ी पथरी है जिस वजह से उसके पेट में ऐसा दर्द होता रहता है। सर्जरी कर उस पथरी को बाहर निकाला गया और अब वह पहले की अपेक्षा काफी ठीक है। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में हुई यह घटना एकबार फिर से ढोंगी बाबा का पर्दाफाश किया है।

 

Arrest

तबीयत में सुधार आने के बाद महिला कहती है कि वह पिछले काफी समय से पेट दर्द की इस समस्या से जूझ रही थी। कई जगह इलाज करवाने के बाद भी जब परेशानी का हल नहीं निकला तो वह बिछुआ के पास खमारपानी नाम की जगह पर बैठने वाले इस बाबा के पास जा पहुंची।

महिला का कहना है कि बाबा के मुंह में पहले से ही पत्थर था और उसने उसी पत्थर को मुंह से फेंका और बीमारी ठीक हो जाने की बात कही। महिला ने अब उस नकली बाबा के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने बाबा और उसके एक साथी को गिरफ्तार कर लिया है।