ताजमहल फिर से आंतिकयों ने निशाने पर है। इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है। स्वतंत्रता दिवस पर सीआईएसएफ ने सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की है। 15 अगस्त को ही पूर्णिमा होने के कारण ताज रात में भी खुलेगा। इसको देखते हुए सुरक्षा बल के जवानों को सैलानियों की सघन चेकिंग किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। 

कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त करने और उसके बाद वहां से 26 अलगाववादियों को सेंट्रल जेल भेजे जाने के बाद पूरे शहर को हाईअलर्ट पर रखा गया था। इधर, स्वतंत्रता दिवस को लेकर खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट पर फिर से अलर्ट जारी किया गया है। ताज के लिए सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। इस बार 15 अगस्त को पूर्णिमा होने के कारण ताजमहल रात साढ़े आठ से 12.30 बजे तक खुलेगा। इसको देखते हुए 24 घंटे सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे। ताजमहल के अंदर रेड जोन में सीआईएसएफ को चौकन्ना रहने के लिए कहा गया है। वहीं बाहरी हिस्सा यानि यलो जोन में ताज सुरक्षा के जवानों को बैरियरों पर सघन चेकिंग किए जाने के निर्दश दिए गए हैं।

दो दिन पहले प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने यहां आकर सेंट्रल जेल का निरीक्षण किया था। उन्होंने अधिकारियों से 15 अगस्त पर सुरक्षा के पर्याप्त बंदोबस्त किए जाने के भी निर्देश दिए थे। इसको लेकर स्थानीय स्तर पर भी अधिकारियों ने बैठक कर सुरक्षा के मुकम्मल इंतजाम करते हुए सुरक्षा बल के जवानों को मुस्तैद रहने के निर्देश दे दिए हैं। 

15 अगस्त को देखते हुए ताजमहल और आसपास ही नहीं पूरे शहर में सुरक्षा के पर्याप्त बंदोबस्त किए गए हैं। ताज के अंदर (रेड जोन) और बाहरी हिस्से यानि यलो जोन में खास सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।- एनजी रवि कुमार, जिलाधिकारी