अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील का शूटर मेरठ में सक्रिय है। वह जेल से ताबड़तोड़ वारदात करा रहा है। मेरठ जेल में बंद शाहीन पर आरोप है कि उसने श्यामनगर निवासी परिवार से दो लाख की रंगदारी मांगी और रकम नहीं देने पर फायरिंग करा दी। गोलीबारी की वारदात की सूचना पर पुलिस टीम रविवार अलसुबह मौके पर दौड़ी। घटना की सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को मिली है। घटनास्थल से कुछ खोखे मिले हैं। शाहीन और उसके साथियों के खिलाफ तहरीर दी गई है। हालांकि पुलिस इस मामले को संदिग्ध मानकर चल रही है।

श्यामनगर निवासी अतीक पर लूट और हत्या के प्रयास के मुकदमे हैं। वह अटैची चोरी करने वाले गिरोह से जुड़ा है। वर्तमान में वह मेरठ जेल में बंद है। अतीक के भाई नफीस ने बताया कि जेल में बंद अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील का शूटर शाहीन पिछले कुछ समय से दो लाख रुपये की रंगदारी मांग रहा है। रात को शाहीन के साथी रफीक उर्फ मुल्ला और एक अन्य घर पर आए थे। बताया कि शाहीन ने दो लाख रुपये की मांग की है। रकम देने से मना करने पर दोनों ने धमकी दी और चले गए।

नफीस ने बताया कि सुबह करीब 5.30 बजे बाइक सवार दो हमलावर आए और घर के बाहर फायरिंग कर दी। चार से पांच राउंड गोलियां चलाई और धमकी देकर फरार हो गए। सूचना पर पुलिस मौके पर दौड़ी। कुछ खोखे बरामद किए गए। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो बाइक सवार दो युवक गोलियां चलाते हुए दिखाई दिए। इसके बाद नफीस की ओर से शाहीन, मुल्ला और एक अन्य के खिलाफ तहरीर दी गई। एसपी सिटी डा. अखिलेश नारायण सिंह ने बताया जांच की जा रही है। कुछ बिंदु ऐसे हैं, जिस पर पीड़ितों के बयान और सीसीटीवी फुटेज मैच नहीं कर रहे। दोनों ही पक्ष आपराधिक प्रवृत्ति के हैं, इसलिए छानबीन की जा रही है।

पार्षद आरिफ और शादाब हत्याकांड में शाहीन का हाथ
पार्षद आरिफ और शादाब हत्याकांड के पीछे भी अंडरवर्ल्ड डॉन के शार्प शूटर शाहीन का कनेक्शन सामने आया था। डासना जेल में बंद अपराधी सलमान के चाचा आरिफ पार्षद थे। वर्ष 2017 में कोतवाली के पीछे आरिफ और उनके भतीजे की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। सलमान और सारिक के बीच चल रही गैंगवार में वारदात अंजाम दी गई। इस मामले में खुलासा हुआ था कि सारिक के कहने पर शाहीन ने ही शूटर उपलब्ध कराए थे और वारदात को अंजाम दिया गया था।

फल मंडी के प्रधान की हत्या में भी हाथ
20 अक्टूबर 2017 को मेरठ की नवीन फल मंडी के प्रधान रहीसुद्दीन की हत्या मंडी में कर दी गई थी। खुलासा हुआ था कि जेल में बंद सारिक ने सुपारी लेकर अपने शूटरों से कराई थी। शूटर शाहीन ने ही उपलब्ध कराए थे। इस मामले में पुलिस ने खुलासा भी किया था।