अमेठी से मेरा रिश्ता पारिवारिक, सुबह 4 बजे भी आवाज देंगे तो रहूंगा हाजिर: राहुल गांधी

0
9

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में मिली हार के बाद पहली बार अमेठी (Amethi) पहुंचें राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि ‘अमेठी से मेरा रिश्ता राजनीतिक नहीं बल्कि पारिवारिक है। आप सुबह चार बजे भी आवाज देंगे तो मैं हाजिर रहूंगा।’ 

राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ गौरीगंज स्थित निर्मला देवी इंस्टीट्यूट में बैठक की। उन्होंने कहा कि अमेठी से मेरा रिश्ता पीढ़ियों का रहा है, मैं उस रिश्ते को निभाऊंगा। 

INDvNZ: भारत की हार पर पीएम मोदी-राहुल गांधी ने किया ट्वीट, जानें क्या कहा

उन्होंने कहा कि मैं वायनाड से सांसद हूं इसलिए वहां का भी विकास कार्य मुझे देखना है, लेकिन मैं अमेठी आता रहूंगा। प्रियंका भी आती रहेंगी। उन्होंने पार्टीजनों से अपील की वे जनता के हितों के लिए संघर्ष करें। कांग्रेस पार्टी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाएं। इससे पहले, राहुल गांधी ने दिवंगत कांग्रेसी डा. गंगा प्रसाद गुप्त के परिजनों से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की। 

Trending: राहुल गांधी ने ट्विटर फॉलोवर्स को दिया धन्यवाद, जानिए वजह

कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद किया 

इसके बाद वह कार्यकर्ताओं से संवाद कार्यक्रम में पहुंचें। यहां तीन अलग-अलग कक्षों में वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं, न्याय पंचायत स्तर व ग्राम पंचायत स्तर के कांग्रेस पदाधिकारियों को बैठाया गया था। सबसे पहले राहुल गांधी ने वरिष्ठ कांग्रेसियों व जिला इकाई के पदाधिकारियों के साथ बैठक की।