IPL 2019: चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाड़ियों को अब नहीं गुजरना होगा यो-यो टेस्ट से, सीधा मिलेगी एंट्री

5
0 Shares

नई दिल्ली। IPL के 12वें सीजन का आगाज 23 मार्च से हो रहा है और इससे पहले टूर्नामेंट की मोस्ट फेवरेट टीम चेन्नई सुपरकिंग्स ने खिलाड़ियों के लिए खुशखबरी दी है। दरअसल, टीम मैनेजमेंट ने ये तय किया है कि इस बार चेन्नई सुपरकिंग्स में खेलने वाले खिलाड़ियों को यो-यो टेस्ट नहीं देना होगा। अभी तक टीम में आने के लिए खिलाड़ियों को यो-यो टेस्ट से गुजरना होता था।

– इसकी जानकारी ट्रेनर रामजी श्रीनिवासन ने दी है। टीम इंडिया के पूर्व ट्रेनर ने कहा कि भारत में भेड़-चाल की परंपरा बढ़ रही है। अगर कोई कुछ करके सफलता हासिल कर लेता है तो सब उसी की तरह करने की कोशिश करते हैं। उसेन बोल्ट फिट रहने के लिए दौड़ते हैं तो मेरा भी फिट रहने के लिए दौड़ना ही जरूरी नहीं है। हमें अब इस मानसिकता को खत्म करना होगा। मैंने खिलाड़ियों की फिटनेस को जांचने के लिए दो या 2.4 किमी. की दौड़ और स्प्रिंट रिपीट टेस्ट ही रखा है।

– रामजी श्रीनिवासन आईपीएल में इस सीजन के पहले मैच तक के लिए चेन्नई की टीम से जुड़े हैं। उन्होंने बताया कि मैंने खिलाड़ियों की व्यक्तिगत जरूरतों को ध्यान में रखते हुए स्मार्ट टेस्ट और डिजाइन टेस्ट को प्राथमिकता दी है। भारतीय टीम यो-यो टेस्ट करती है तो यह जरूरी नहीं कि मुझे भी इसे अपनाना होगा। हर किसी की क्षमता अलग होती है। मैं जब भारतीय टीम से जुड़ा था, तब मैंने जो टेस्ट महेंद्र सिंह धोनी के लिए तैयार किया था, वो सचिन तेंदुलकर के लिए नहीं था।

आपको बता दें कि IPL का पहला मैच चेन्नई सुपरकिंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला जाना है। ये मुकाबला चेन्नई में खेला जाएगा।

0 Shares