दुबई : 30 मई से इंग्लैंड एंड वेल्स में होने वाले विश्व कप 2019 में मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग आदि को रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने एक बड़ा कदम उठाते हुए पहली बार यह निर्णय लिया है कि वह विश्व कप में शामिल हर टीम के लिए एक विशेष अधिकारी नियुक्त करेगा। इनका काम भ्रष्टाचार संबंधी मामलों पर नजर रखना होगा।

टीम के साथ ही होटल में रहेगा

इससे पहले तक आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी ईकाई (एसीयू) मैच स्थल पर तो रहती थी, लेकिन प्रत्येक टीम के साथ नहीं होती थी। वह टीम के अधिकारियों से मिलती रहती थी। लेकिन अब एक अधिकारी हर टीम के साथ टूर्नामेंट खत्म होने तक रहेगा, जो अभ्यास मैच से लेकर होटल तक टीम के साथ ही रुकेगा। इतना ही नहीं, वह सफर भी टीम के साथ ही करेगा।

इसलिए की गई है यह व्यवस्था

यह व्यवस्था इसलिए की गई है, क्योंकि टीम के साथ अधिकारी के रहने से वह किसी भी संदिग्ध स्थिति को बेहतर तरीके से भांप सकेगा, क्योंकि वह टीम के साथ और बैक-रूम स्टाफ के पास ही रहेगा। आईसीसी यह उम्मीद कर रहा है कि इससे विश्व कप के दौरान किसी भी तरह के कदाचार की गुंजाइश नहीं रहेगी और खेल को ज्यादा पारदर्शी और साफ-सुथरा बनाया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here