जब भी साई बाबा के साक्षात दर्शन करने की इच्छा हो तो गुरूवार को कर लें ये छोटा सा काम

276
0 Shares

हर किसी की भक्त की इच्छा होती हैं कि जिनकों भी वे भगवान रूप में पूजते है, एक जीवन में उनके दर्शन भी हो जाये । अगर आप बाबा साई नाथ को भगवान रूप में मानते हो और उनके साक्षात दर्शन करना चाहते तो हो गुरूवार के दिन इस छोटे से मगर बहुत ही असरदार काम को एक बार जरूर करें । ऐसा करने से भगवान साई प्रसन्न होकर भक्त को किसी ना किसी रूप में दर्शन देकर हर मनोकामना पूरी कर देते हैं ।

 

अगर साई बाबा की कृपा पाना हैं, उनके दर्शन करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन किसी भी साई मंदिर में जाकर एक पीले कागज पर लाल रंग के पेन से साई के आशीर्वाद रूपी इन ग्यारह वचनों को शांत चित होकर बाबा का ध्यान करते हुये लिख लें । लिखने के बाद उस कागज को कुछ देर के लिए साई बाबा के चरणों में रख दें, और प्रार्थना करें कि हे साई नाथ कृपा करके एक बार अपने दर्शन मुझे भी देकर कृतार्थ करे । अब उस पीले कागज को अपने साथ घर ले आयें एवं उसे अपने पूजा स्थल, शयन कक्ष या फिर अपने कार्य स्थल पर लगा दें । ये उपाय इतना शक्तिशाली है कि तुरंत ही चमत्कार दिखाई देने लगते हैं ।

 

साई बाबा के इन वचनों को पीले कागज पर लाल स्याही से ही लिखना हैं और लिखते समय मौन शांत रहते हुए बाबा का ध्यान करते रहना हैं- इस उपाय को करते समय पूर्ण श्रद्धा और विश्वास का ध्यान रखें । जब तक पीले कागज पर पूरा लिखना न हो जाये तब तक अपने स्थान से उठना नहीं । इसके बाद आप देखेंगे की साई नाथ कैसे आपकी हर मनोकामना को पूरी कर देते हैं ।

 

जो शिरडी में आएगा, आपद दूर भगाएगा ।
चढ़े समाधि की सीढ़ी पर, पैर तले दुख की पीढ़ी पर ।।

त्याग शरीर चला जाऊंगा, भक्त हेतु दौड़ा आऊंगा ।
मन में रखना दृढ़ विश्वास, करे समाधि पूरी आस ।।

मेरी शरण आ खाली जाए, हो तो कोई मुझे बताए ।
जैसा भाव रहा जिस जन का, वैसा रूप हुआ मेरे मन का ।।

भार तुम्हारा मुझ पर होगा, वचन न मेरा झूठा होगा ।
आ सहायता लो भरपूर, जो मांगा वो नहीं है दूर ।।

मुझमें लीन वचन मन काया , उसका ऋण न कभी चुकाया ।
धन्य धन्य व भक्त अनन्य , मेरी शरण तज जिसे न अन्य ।।

0 Shares