मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 का खात्मा आतंकवाद की जड़ में आखिरी कील है। अनुच्छेद 370 का समाप्त होना न केवल डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों का साकार करता है, बल्कि सरदार पटेल, डॉ. भीमराव अंबेडकर की सोच को भी सार्थक करता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की सोच ने डॉ. मुखर्जी के सपनों को पूरा कर दिखाया है। 

नौबस्ता में कानपुर समेत प्रदेश के 9 जिलों के कार्यालयों के शिलान्यास समारोह में पहुंचे मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा कैडर बेस पार्टी है। भाजपा ने मूल्यों, सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं किया। मूल्यों, आदर्शों और संकल्प के बूते आज 16 राज्यों में सरकार और केंद्र में एक लोकप्रिय सरकार है। अपने कार्यकर्ताओं के बल पर आज दुनिया की सबसे बड़ी प्रजातांत्रित पार्टी है।

महंत दिग्विजयनाथ और अवेद्यनाथ संतो-योगियों की परम्परा के चमकते नक्षत्र: योगी आदित्यनाथ

डॉ. मुखर्जी का सपना पूरा हुआ

अपने पांच मिनट के संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि 1953 में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी एक विधान, एक निशान और एक प्रधान का संकल्प लिया था। एलान किया था कि एक देश में दो प्रधान, दो विधान, दो निशान नहीं चलेंगे। 70 वर्षों के बाद डॉ. मुखर्जी का सपना साकार हुआ। प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने अनुच्छेद 370 खत्म कर एक भारत, श्रेष्ठ भारत का संदेश दिया। 

अपने संसाधन पर तैयार होंगे कार्यालय

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने संकल्प लिया था कि देश के हर जिले में पार्टी का अपना कार्यालय हो। पार्टी अपने संसाधन पर कार्यालय बना रही है। इसी संकल्प के साथ पूर्व मंत्री और कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शिलान्यास किया।

Trending:: SP अब शिवपाल की विधानसभा सदस्यता खत्म कराने में जुटी