लंदन। ब्रिटेन में ब्रेक्सिट को लेकर मचे राजनीतिक घमासान के बीच प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने बुधवार को विपक्ष के नेता जेरेमी कॉर्बिन से मुलाकात की और जारी गतिरोध को खत्म करने को लेकर बातचीत की। दोनों के बीच करीब दो घंटे तक चली बातचीत के दौरान राजनीतिक प्रतिद्वंदियों ने इस बात पर सहमति जताई के वे पार्टी से उपर उठकर इसपर चर्चा करेंगे और यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने पर पारस्परिक रूप से स्वीकार्य समझौते की तलाश करेंगे। बैठक के बाद विपक्ष के नेता कॉर्बिन ने एक टीवी इन्टरव्यू में कहा कि हमारी बातचीत उपयोगी लेकिन अनिर्णायक रहा। उन्होंने कहा कि पीएम थेरेसा मे के रुख में जितना परिवर्तन की अपेक्षित थी उतनी नहीं हुई, लेकिन उन्हें अब सांसदों के साथ मिलकर इसे सफल बनाने के लिए कुछ करना होगा। कॉर्बिन के अनुसार, बैठक के दौरान भविष्य में सीमा शुल्क व्यवस्था, व्यापार समझौते के साथ-साथ रोजगार व पर्यावरण सहित तमाम मुद्दों पर चर्चा की गई। बता दें कि 12 अप्रैल को यूके ओक यूरोपीय संघ से अलग होने की तारीख है, लेकिन अभी तक ब्रिटिश संसद बाहर निकलने के योजना पर सहमत नहीं हो सका है।

ब्रिटेन का EU से निकलना लगभग तय, समझौते पर पीएम थेरेसा मे के प्रस्ताव को सांसदों ने किया खारिज

गुरुवार को फिर से होगी वार्ता

कॉर्बिन ने आगे बताया कि बैठक में इस बात पर समहति बनी के दोनों पक्ष इस मामले पर बातचीत जारी रखेंगे और संबंध में गुरुवार को फिर से वार्ता होगी। पीएम थेरेसा मे के प्रवक्ता ने भी बताया कि दोनों पक्षों ने बातचीत के दौरान सफल वार्ता को लेकर लचीलापन दिखाया था और अपने देश के नागरिकों के कल्याण के लिए काम करने की अपनी पार्टी की प्रतिबद्धता भी दौहराई जिसमें नौकरियों की रक्षा और सुरक्षा का मामला भी शामिल है। बता दें कि इस बैठक में लेबर ब्रेक्सिट के प्रवक्ता कीर स्टारर के साथ-साथ पार्टी के महिला प्रवक्ता रेबेका लॉन्ग-बेली और लेबर चीफ व्हिप निक ब्राउन भी मौजूद थे। इसके अलावा कंजर्वेटिव्स की ओर से थेरेसा मे के डी-फैक्टो डिप्टी डेविड लिडिंगटन, ब्रेक्सिट सचिव स्टीफन बार्कले और कंजर्वेटिव मुख्य सचेतक जूलियन स्मिथ भी उपस्थित थे।

 

Read the Latest World News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi मेट्रो सिटी समाचार डॉट कॉम पर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here