पाक सरकार के खिलाफ बलूच और पश्‍तूनों का टोरंटों में जोरदार प्रदर्शन, दमनकारी नीतियों पर लगाम लगाने की मांग

2

नई दिल्‍ली। कनाडा की राजधानी टोरंटो में मानवाधिकार को लेकर पाक सरकार और सेना के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन जारी है। प्रदर्शन में पश्तून, मोहजिर, सिंधी और कश्मीरी समूहों से जुड़े लोग शामिल हुए। इन समूहों की ओर से मानवाधिकार के मुद्दे पर सम्‍मेलन आयोजित करने का सिलसिला जारी है। सम्‍मेलन के दौरान वक्‍ताओं ने मांग की है कि बलूचिस्‍तान सहित अन्‍य क्षेत्रों में अल्‍पसंख्‍यक के खिलाफ जारी दमनकारी नीतियों पर लगाम लगाने के लिए वैश्विक संगठन पाक सरकार को मजबूर करे। ।

अमरीका ने खशोगी के बहाने सऊदी शाही शासन को माना मानवाधिकार उल्‍लंघन का दोषी

पाक को बताया हमलावर राष्‍ट्र
आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले कश्मीरी राजनीतिक कार्यकर्ताओं और बुद्धिजीवियों ने जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) के 40वें सत्र के दौरान कश्मीर पर पाकिस्‍तान के दोहरे रवैये की सख्‍त आलोचना की थी। इस अवसर पर यूरोपियन फाउंडेशन ऑफ साउथ एशियन स्‍टडीज के निदेशक जुनैद कुरैशी ने पाकिस्तान को हमलावर राष्‍ट्र करार दिया था। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान ने 1947 हमला बोलकर जम्‍मू और कश्‍मीर सहित बलूचिस्‍तान पर कब्‍जा कर लिया और अब एक ब्रोकर की तरह अपने हित के लिए चीन के हाथों बेचने जा रहा है।

मसूद अजहर का साथ देकर घिरा चीन, UNSC के बाकी 4 देश ले सकते हैं कोई बड़ा फैसला