पीएम मोदी को मिला सियोल शांति पुरस्कार, कहा- यह सम्मान भारतीय ना​गरिकों को समर्पित

2
0 Shares

सियोल। दक्षिण कोरिया में दो दिवासीय यात्रा पर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी को सियोल शांति पुरस्कार से नवाजा गया। मोदी सियोल शांति पुरस्कार पाने वाले 14वें व्यक्ति हैं। यह पुरस्कार 1988 में सियोल ओलिंपिक के सफल आयोजन के बाद शुरू किया गया था। इस पुरस्कार से सम्मानित होने वाले प्रधानमंत्री मोदी पहले भारतीय व्यक्ति हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह अवॉर्ड वह भारतीय नागरिकों को समर्पित करते हैं। उन्होंने कहा कि आज दुनिया ने भारत की वसुधैव कुटुम्बकम नीति को अपनाया है। ऐसे में पुरी दुनिया को किसी भी समस्या के खिलाफ साथ खड़ा होना जरूरी है।

 

नमामि गंगे के फंड में भेंट करेंगे पुरस्कार राशि

प्रधानमंत्री बोले कि भारत ने हमेशा दुनिया को शांति का संदेश दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने यहां कहा कि ये अवॉर्ड महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर मिल रहा है, ये काफी बड़ी बात है। पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें इस सम्मान के साथ जो राशि मिली है, वह उसे नमामि गंगे के फंड में भेंट करना चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है, सरकार ने आर्थिक क्षेत्र में कई ऐसे फैसले लिए हैं जिन्होंने जमीन पर बड़ा काम किया है। पीएम ने इस दौरान स्वच्छ भारत, उज्ज्वला योजना, जनधन खातों, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं का जिक्र भी किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज आतंकवाद दुनियाभर के लिए चिंता का विषय बना है, इससे लड़ने के लिए दुनिया को एकजुट होने की जरूरत है।

Read the Latest World News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi मेट्रो सिटी समाचार डॉट कॉम पर.

150 उम्मीदवारों में से मोदी को चुना गया

प्रतिष्ठित सियोल शांति पुरस्कार 1990 से दिया जा रहा है। यह पुरस्कार अब तक संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान, जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल जैसी हस्तियों को मिल चुका है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस अवॉर्ड के लिए दुनियाभर से कुल 1300 नामांकन आए थे। अवॉर्ड कमेटी ने उनमें से 150 उम्मीदवारों को अलग किया गया। इन 150 उम्मीदवारों में से प्रधानमंत्री मोदी का चयन किया गया। कमेटी ने पीएम मोदी को ‘द परफेक्ट कैंडिडेट फॉर द 2018 सियोल पीस प्राइज’ कहा है।

0 Shares