सुधरेंगे वेनेजुएला के हालात, कांग्रेस ने मानवीय सहायता को दी मंजूरी

2
0 Shares

काराकास। वेनेजुएला में विपक्ष के नियंत्रण वाली नेशनल असेंबली ने बड़ा फैसला लिया है। असेंबली ने मंगलवार को अमरीका और अन्य देशों से भेजी गई मानवीय सहायता सामग्री को देश में प्रवेश की अनुमति दे दी। आपको बता दें कि इससे पहले राष्ट्रपति निकोलस मदुरो की सरकार ने मंजूरी देने से इंकार कर दिया था।

मानवीय आपातकाल जैसे हालात

मानवीय सहायचा सामग्री के लिए असेंबली में मतदान किया गया, जिसके बाद इसे मंजूरी मिली। इस दौरान कई सांसदों ने अपने भाषण में इस तेल समृद्ध देश में जो स्थिति बनी हुई है उसे मानवीय आपातकाल बताया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, असेंबली ने वेनेजुएला के सशस्त्र बलों और राष्ट्रीय पुलिस को आदेश दिया है कि वे कोलंबियाई सीमावर्ती शहर कुकुटा और दो अन्य स्थानों पर गोदामों में एकत्रित सहायता सामग्री के वितरण को रोकने वाले बैरियर्स को तोड़ दें।

ये भी पढ़ें:- गूगल ने पेश की सफाई, कहा- हमें नहीं मिला ‘टॉयलेट पेपर’ की जगह पाकिस्तानी झंडा दिखाने का कोई सबूत

असेंबली में हुए बड़े फैसले

असेंबली में सांसदों ने दवाइयों और अन्य चिकित्सा सामग्री के आयात की देखरेख करने वाले सीमा शुल्क एजेंटों और विभिन्न एजेंसियों को आपातकाल की अवधि तक नियमित प्रक्रियाएं रोकने का भी निर्देश दिया। इसके साथ ही असेंबली ने सहायता सामग्री भेजने वाले देशों को धन्यवाद दिया और उन्हें इस प्रस्ताव की प्रतियां भी भेजी।

अमरीका समेत 50 देशों ने दिया था गुएडो को समर्थन

बता दें कि अंतरराष्ट्रीय सहायता के लिए अनुरोध नेशनल असेंबली के स्पीकर जुआन गुएडो ने किया, जिन्होंने 23 जनवरी को खुद को वेनेजुएला का कार्यकारी अध्यक्ष घोषित किया था। अमरीका ने बिना देर किए गुआइदो को राष्ट्रपति के रूप में मान्यता दे दी और लगभग 50 अन्य देशों ने भी ऐसा किया, जिनमें कनाडा, कोलंबिया, अर्जेंटीना और ब्राजील के साथ ही प्रमुख यूरोपीय शक्तियां फ्रांस, जर्मनी, स्पेन और ब्रिटेन भी शामिल हैं।

0 Shares