संयुक्त राष्ट्र से भारत-पाकिस्तान को नसीहत, तनाव के माहौल में संयम बरतें दोनों देश

4
0 Shares

संयुक्त राष्ट्र। पुलवामा हमले के बाद भारत-पाकिस्तान का तनाव संयुक्त राष्ट्र तक पहुंच गया है। दुनियाभर से दबाव झेलने और अलग-थलग पड़ने के डर से पाकिस्तान ने यूएन का दरवाजा खटखटाया था। अब यूएन के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद बढ़े तनाव के मद्देनजर मंगलवार को भारत और पाकिस्तान से ‘अत्यधिक संयम’ बरतने का आग्रह किया।

दोनों पक्षों के बीच मध्यस्थता का फैसला

इसके साथ ही महासचिव ने दोनों पक्षों के बीच मध्यस्थता का भी प्रस्ताव रखा। गुटेरेस ने अपने प्रवक्ता के माध्यम से बयान जारी करवाकर कहा कि संयुक्त राष्ट्र स्थिति को लेकर बेहद चिंतित है और साथ ही उन्होंने दोनों पक्षों द्वारा आग्रह करने पर मध्यस्थता कराने का प्रस्ताव भी रखा। एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने बुधवार को पाकिस्तानी एंबेसेडर मलीहा लोधी का स्वागत किया जिनकी सरकार ने संगठन से वर्तमान संकट पर हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है।

30 सालों में सबसे जघन्य हमला

प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने मीडिया को बताया कि, फिलहाल, गुटेरेस ने दोनों पक्षों से ‘अत्यधिक संयम बरतने और तनाव दूर करने के लिए तत्काल कदम उठाने’ का आग्रह किया है। गौरतलब है कि भारत ने पाकिस्तान पर पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के एक काफिले पर आत्मघाती बम विस्फोट करने वाले आतंकवादी समूह को समर्थन देने का आरोप लगाया है, जिसके बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बेहद बढ़ गया है। क्षेत्र में पिछले 30 सालों में यह सबसे जघन्य हमला है। वहीं, मंगलवार को पाक पीएम इमरान खान ने भारत से हमले में पाक के हाथ होने का सबूत मांगा है।

0 Shares