सेना की भाषा बोल रहे थे इमरान खान? चंद मिनटों की वीडियो में 20 से ज्यादा कट

4

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान अलग पड़ चुका है। दुनियाभर के देशों से दबाव मिलने पर आखिरकार पांच दिन बाद इमरान खान ने अपना बयान जारी किया। अपनी सफाई देते हुए इमरान ने हमले में पाकिस्तान की भूमिका से इनकार किया है। इस संबंध में उन्होंने एक प्रेस कॉफ्रेंस कर टिप्पणी की थी। अब उसी वीडियो को लेकर कई सवाल उठाए जा रहे हैं।

वीडियो में 20 से ज्यादा कट

दरअसल, पाक पीएम के बयान वाले वीडियो में काफी गड़बड़ दिखाई दे रही है। ध्यान से देखने पर पता चलता है कि मात्र 6 मिनट तक की अवधि वाले इस वीडियो में 20 से ज्यादा कट लगाए गए हैं। इसका साफ मतलब है कि वीडियो को एडिटिंग के कई लेवल से गुजरना पड़ा है। साफ जाहिर हो रहा है कि ये एक रिकॉर्डेड वीडियो है ना कि लाइव वीडियो।

सेना की मर्जी के बिना कोई फैसला नहीं

कई जानकारों का मानना है कि वीडियो की एडिटिंग सेना के इशारे पर हुई है। इससे साफ जाहिर होता है कि नया पाकिस्तान का दावा करने वाली इमरान सरकार भी बिना सेना के ग्रीन सिग्नल मिले कोई फैसला नहीं लेती। आपको बता दें कि इमरान ने भारतीय समय के मुताबिक 1.30 बजे पाक में अपना संबोधन करेंगे। इस दौरान इमरान ने कहा कि भारत बिना किसी सबूत के पाकिस्तान पर आरोप लगा रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले भी इमरान पर कई बार सेना का पक्ष लेने का आरोप लगा है। आम चुनाव के दौरान भी आरोप लगे थे कि सेना के बल पर ही उन्होंने चुनाव में फतेह की है।