मुजफ्फराबाद में पाकिस्तानी सेना के खिलाफ जमकर नारेबाजी, कहा-अत्याचारों को बढ़ावा दे रही

5

लाहौर। पीओके स्थित मुजफ्फराबाद में कश्मीरी युवाओं ने पाकिस्तानी सेना और गुप्तचर एजेंसी आईएसआई के खिलाफ जमकर नारे लगाए। सोमवार को जम्मू कश्मीर नेशनल स्टूडेंट फेडरेशन जेकेएनएसएफ ने इस रैली का आयोजन किया था। उन्होंने पाक सेना के अत्याचारों को सामने लाते हुए, उनके कारनामों को उजागर किया। उन्होंने कहा कि राजनीतिक गतिविधियों से जुड़े कार्यकर्ताओं और छात्रों को सताया जा रहा है। उन्हें तरह-तरह की यातनाएं दी जाती हैं।

बाजवा के खिलाफ भी नारे लगाए

यहां के लोग नारे लगा रहे थे कि यह जो दशहगर्दी है, उसके पीछे वर्दी है। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तानक के आर्मी चीफ जनरल उमर जावेद बाजवा के खिलाफ भी नारे लगाए। मुजफ्फराबाद शहर में इन लोगों पर लाठीचार्ज के साथ आंसू गैसे के गोले भी छोड़े गए। गौरतलब है कि 1947 से पाक गिलगिट और बलूचिस्तान को अपना क्षेत्र कहता आया है। तब से यहां के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यहां के लोगों के लिए बेराजगारी, गरीबी और मूलभूत जरुरते बड़ी समस्या है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब भी हम पाकिस्तान से अपने हकों की बात करते हैं। तभी इन्हें दबा दिया जाता है। उनके साथ पाकिस्तानी सेना काफी अत्याचार भी करती हैं।

0 Shares