बगदाद। इराक ने दावा किया है कि उसने देश में स्थित इस्लामिक स्टेट (आईएस) के सबसे बड़े ठिकाने को ध्वस्त कर दिया है। उनका कहना है कि अपने पश्चिमी प्रांत अनबर में आईएस के अड्डे को ध्वस्त करने के साथ-साथ ही 186 आतंकवादियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। कहा जा रहा है कि गिरफ्तार हुए उपद्रवी देश के कई बड़े आतंकी हमलों में शामिल रहे थे।

एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में गिरफ्तारी पर किया खुलासा

बगदाद ऑपरेशन कमांड के प्रवक्ता साद मान ने सोमवार को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने अनबर की प्रांतीय परिषद के प्रमुख अहमद अल-अलवानी के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बारे में खुलासा करते हुए कहा, ‘संयुक्त बल ने आत्मघाती हमलों के लिए जिम्मेदार अनबर के सबसे बड़े आईएस सेल का भंडाफोड़ किया। ये गिरोह सड़क किनारे बम लगाने और देश के अंतरराष्ट्रीय राजमार्ग पर सैन्य कर्मियों की हत्या करने के लिए जिम्मेदार रहा है।’

अनबर को किया जाएगा आईएस से मुक्त

एक चीनी समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, हिरासत में लिए गए कट्टरपंथी हमलावरों ने अपने-अपने बयानों पर हस्ताक्षर किए हैं। मान ने कहा कि 2017 के अंत में अनबर को आईएस से मुक्त कराने के बाद इन कट्टरपंथी आतंकवादियों को पकड़ा गया था। इन आतंकवादियों ने अल-बन निम्र जनजाति के नागरिकों की तब हत्या कर दी थी, जब उन्होंने आतंकियों के समूह में शामिल होने से इंकार कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here