ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ने सभी मुस्लिमों से ट्रंप प्रशासन की पश्चिम एशिया शांति योजना का विरोध करने में फलस्तीनी लोगों का समर्थन करने का आह्वान किया है। इस शांति योजना को ‘सदी का समझौता बताया जाता है। खामनेई ने शनिवार को इस्लामी हज यात्रा को उद्धत करते हुए कहा कि प्रस्तावित अमेरिकी योजना एक ”चाल है जो निश्चित रूप से विनाशकारी है।

उन्होंने अमेरिकी योजना को अवरुद्ध करने के प्रयासों में ”सक्रिय भागीदारी का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि यह योजना फलस्तीनियों के लिए संदेह की बात भी है क्योंकि वे उन नीतियों के कारण हैं जिनका इज़राइल की तरफ झुकाव हैं। सऊदी अरब में इस साल की हज यात्रा के दौरान फारस की खाड़ी के निकट अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया है।

उत्तर पश्चिम सीरिया में संघर्ष में 55 लड़ाकों की मौत

ईरान ने नयी हवाई रक्षा प्रणाली पेश की
वहीं दूसरी ओर, ईरान ने शनिवार को नयी हवाई रक्षा प्रणाली पेश की जिसके बारे में उसका कहना है कि वह 400 किलोमीटर दूर से भी मिसाइलों और ड्रोनों का पता लगाने में सक्षम है। अर्द्ध-सरकारी समाचार एजेंसी आईएसएनए ने खबर दी है कि ‘फलक आयातित रडार ‘गम्मा का स्वदेशी उन्नत संस्करण है। ‘गम्मा नाम से मालूम चलता है कि यह रूसी में बनी हवाई रक्षा प्रणाली है।

एजेंसी ने यह भी खबर दी है कि यह प्रणाली (गम्मा) पाबंदियों, पुर्जों के अभाव और मरम्मत करने में विदेशी इंजीनियरों की अक्षमता की वजह से काम नहीं कर रही थी। नयी हवाई रक्षा प्रणाली को ऐसे समय में पेश किया है जब ईरान और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। 

समाचार एजेंसी ने सेना के हवाई रक्षा बल के प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल अली रज़ा सबाही-फरद के हवाले से बताया कि ईरान का यह रडार 400 किलीमटर तक सभी तरह की क्रूज मिसाइलों, स्टेल्थ विमानों, ड्रॉन प्रणालियों और बैलेस्टिक मिसाइलों की पहचान करने और उनका पता लगाने में समक्ष है।

समाचार एजेंसी के मुताबिक, ‘फलक ईरान के हवाई रक्षा प्रणाली के नेटवर्क को जोड़ने तथा रूस से खरीदे गए एस-300 मिसाइल रक्षा प्रणाली की कवरेज को पूरा करने की भी क्षमता रखता है।’