फिनलैंड चुनाव: कांटे की टक्कर में सोशल डेमोक्रेट्स पार्टी की जीत

2

हेलसिंकी। फिनलैंड में चुनाव परिणामों की घोषणा कर दी गई है। इन चुनावों में सोशल डेमोक्रेट्स पार्टी (एसडीपी) ने कांटे की टक्कर में दक्षिणपंथी फिन्स पार्टी को हराकर जीत हासिल कर ली है। मीडिया की खबरों में बताया गया है कि अभी तक के लगभग 99.3 प्रतिशत मतपत्रों की गिनती हो चुकी है। केंद्रीय नेता एंटनी रिनी की अध्यक्षता वाली एसडीपी ने संसद में 17.7 प्रतिशत वोट हासिल किए हैं जबकि फिन्स पार्टी को 17.5 प्रतिशत वोट प्राप्त हुए हैं। बता दें कि फिनलैंड में जूहा सिपिला सरकार ने सामाजिक कल्याण और स्वास्थ्य सेवा सुधार में विफलता का हवाला देते हुए मार्च में इस्तीफा दे दिया था।

सूडान में संकट: क्या किसी समझौते तक पहुंचेंगे सेना और प्रदर्शनकारी?

सोशल डेमोक्रेट्स पार्टी की जीत

नेशनलिस्ट फिन्स पार्टी को इन चुनावों में 39 सीटें हासिल हुई हैं जबकि सोशल डेमोक्रेट्स पार्टी (एसडीपी) को 40 सीटें मिली हैं। फिन्स पार्टी नेशनल कोअलिशन पार्टी (कोकूमस) की तुलना में अधिक वोट हासिल करने में सफल रही। आपको बता दें कि नेशनल कोअलिशन पार्टी का नेतृत्व वित्त मंत्री पेत्तेरी ओरपो कर रहे हैं। नेशनल कोअलिशन पार्टी ने 17 प्रतिशत मत प्राप्त करने के साथ 38 सीटें जीती हैं ।

अब दुश्मन पर हर पल होंगी चीन की नजरें, पानी और जमीन पर चलने वाली ड्रोन बोट का सफल परीक्षण

सत्तारूढ़ दल को मिली हार

प्रधानमंत्री जूहा सिपिला के नेतृत्व वाली सेंटर पार्टी जो इस समय देश में सत्ता संभाल रही है उसे जबरदस्त हार का सामना करना पड़ा है। बता दें कि इस समय यह पार्टी देश में गठबंधन सरकार चला रही थी। इसे 13.8 प्रतिशत वोट के साथ महज 31 सीटें प्राप्त हुई हैं। 2015 चुनाव में इस पार्टी ने 49 सीटें जीती थी। ग्रीन लीग पार्टी को इन चुनावों में 20 सीटें मिली हैं। आपको बता दें कि 200 सीटों वाली फिनलैंड की नई ससंद एदुसकुंता मेंस्वीडिश पीपल्स पार्टी और क्रिश्चियन डेमोक्रेट्स ने भी अपने उपस्थिति दर्ज की है। ब्लू रिफॉर्म पार्टी को इस चुनाव में झटका लगा है और उसे एक भी सीटें नहीं मिल सकी है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

0 Shares