क्राइस्टचर्च। क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों पर ताबड़तोड़ हमला 50 मुस्लिम लोगों की गोली मारकर हत्या करने के आरोपी शख्स के मानसिक जांच की जाएगी। शुक्रवार 5 अप्रैल को न्यूजीलैंड की अदालत ने इस आशय का आदेश दिया। इससे यह पता चल सकेगा कि वह हत्या का मुकदमा चलाने के लिए मानसिक रूप से फिट है या नहीं।

भारत-यूएई संबंधों को मिली नई पहचान, पीएम नरेंद्र मोदी को जायद मेडल देने का ऐलान

आरोपी का होगा मानसिक परीक्षण

15 मार्च के हमलों में मारे गए लोगों के जीवित बचे लोगों और पीड़ितों के रिश्तेदारों से कोर्ट रूम खचाखच भरा हुआ था। हमलावर ब्रेंटन टैरेंट को ऑकलैंड की एक अधिकतम-सुरक्षा जेल से ऑडियो-विजुअल लिंक के माध्यम से अदालत में पेश किया गया। इसका मतलब यह है कि उसे प्रत्यक्ष रूप से अदालत में पेश नहीं किया गया। 28 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई नागरिक ने पर 50 हत्याओं का आरोप है। इस हमले ने पूरी दुनिया को हैरत में डाल दिया था और शांतिप्रिय देश न्यूजीलैंड को हिलाकर रख दिया था। हाई कोर्ट के जज कैमरन मंडेर ने संक्षिप्त सुनवाई के दौरान फैसला सुनाया कि आरोपी की दो डॉक्टरों के द्वारा मानसिक जांच के जाएगी। इसके द्वारा यह निर्धारित किया जाएगा कि क्या वह मुकदमा चलाए जाने के काबिल है या नहीं।

श्रीलंका: प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के कमांडो ने गोली मारकर खुदकुशी की

सुनवाई के दौरान अडिग रहा आरोपी

स्वयंभू श्वेत वर्चस्ववादी शख्स सुनवाई के दौरान निडर रहा और सामान्य होकर अदालत की कार्यवाहियों को सुनता रहा। 14 जून को उसे अदालत में पेश किया जाएगा। तब तक उसे हिरासत में भेज दिया गया। न्यूजीलैंड के इतिहास में सबसे घातक नरसंहार के आरोपित व्यक्ति की एक झलक पाने के लिए लगभग 50 लोग अदालत की सार्वजनिक गैलरी में खड़े थे।अधिकांश लोगों के के लिए स्क्रीन पर टारंट की उपस्थिति अपने प्रियजनों को बंदूक से मारने के आरोपी व्यक्ति का चेहरा देखने का पहला मौका था। बता दें कि आरोपी पर पहले हमले की साजिश रचने का आरोप लगाया गया था, लेकिन बाद में उसे सभी 50 हत्याओं का आरोपी बनाया गया। अपनी पहली पेशी के बाद आरोपी ने किसी वकील की मदद लेने से इंकार कर दिया। उसने कहा है कि वह अपने मामलों की खुद पैरवी करेगा।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here