इस काम को बेहद ही मुश्किल मानती हैं सोहा, कहा- लोगों के निशाने पर आने का रहता है डर

4

अभिनेत्री सोहा अली खान का कहना है कि आज के समय में सीधी साफ बात बोलना बहुत मुश्किल है क्योंकि अब सहनशीलता नहीं है, विशेषकर सोशल मीडिया जगत में। सोहा ने आईएएनएस से कहा, ‘मुझे लगता है कि आज के वक्त में किसी के लिए भी साफ बोलना बहुत मुश्किल है। हम अभिव्यक्ति या भाषण का आजादी की बात तो करते हैं लेकिन जो लोग बोलते हैं, हम उनके प्रति सहनशीलता नहीं दिखाते..खासकर सोशल मीडिया पर क्योंकि आप देख सकते हैं कि जब आप कुछ कहते हैं तो आप बहुत से लोगों के निशाने पर आ जाते हैं।’

40 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि कई बार घृणा शब्दों के स्तर तक होती है लेकिन कभी-कभार यह बढ़कर क्रूरता में बदल जाती है। उन्होंने कहा, ‘नफरत का प्रतिघात होता है। कभी-कभार यह शाब्दिक स्तर पर बना रहता है और कभी-कभार ये वास्तव में हिंसा में तब्दील हो जाता है, जिसके कारण लोगों को अपनी नौकरियां खोनी पड़ती है और परिणाम भुगतने पड़ते हैं। यह चिंता की बात है कि किसी को साफ बोलने से पहले दो बार सोचना पड़ता है, जो कि दुखद है।’