मेरे पास स्क्रिप्ट चुनने का कोई फॉर्मूला नहीं : भूमि पेडनेकर

7

एक्ट्रेस भूमि पेडनेकर बॉलीवुड के उन यंग स्टार्स में से एक हैं जिन्होंने अपने शानदार अभिनय और अलग-अलग तरह के किरदारों से इंडस्ट्री में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। हाल ही में एक इंटरव्यू में भूमि ने बताया कि उनकी बोल्ड फिल्म च्वाइस ने उन्हें बेहतर कंटेंट वाली सिनेमा की पोस्टर गर्ल बना दिया है और उनकी कंटेंट च्वाइस ने उनके खाते में कई ब्लॉकबस्टर फिल्में डाल दी है।

 

bhumi pedenekar said she does not have any formula to choose script

‘मैं अपने दिल की बात सुनती हूं’
फिल्मों की स्क्रिप्ट चुनने को लेकर भूमि का कहना है, ‘मेरे पास स्क्रिप्ट चुनने का कोई फॉर्मूला नहीं है या ऐसा कोई सेट तरीका भी नहीं है कि किसी फिल्म में यदि अमुक चीजें मुझे मिलती है तभी मैं इसे करूंगी। मैं एक बहुत ही सहज इंसान हूं। अपने दिल की बात सुनती हूं और ये हमेशा सही साबित भी हुआ है। मैंने जो भी फैसला लिया, वह इसलिए था क्योंकि मुझे वास्तव में लगा था कि मेरा किरदार कहानी का एक अभिन्न हिस्सा है। मैं उस स्क्रिप्ट को चुनने के लिए कुछ समय लेती हूं जो मैं करना चाहती हूं। मैं वही चुनती हूं जिसे लेकर मैं अधिक आश्वस्त होती हूं।’

bhumi pedenekar said she does not have any formula to choose script

‘मैं चुनिंदा स्क्रिप्ट्स के पीछे नहीं भागती हूं’
ऐसा नही हैं कि भूमि केवल सामाजिक रूप से प्रासंगिक सिनेमा करने में ही दिलचस्पी रखती हैं। वह सिर्फ अच्छी सामग्री पसंद करती हैं। भूमि का कहना है,’यह वास्तव में कंटेंट का समय और मैं इस युग का हिस्सा बन कर भाग्यशाली हूं। मैं सिर्फ सामाजिक रूप से प्रासंगिक सिनेमा करना नहीं चाहती। मेरी पहली तीन फिल्में यूनिक थी और इसने दर्शकों को कुछ ज्ञान भी दिया। उन सारी फिल्मों ने सोशल टैबू (सामाजिक रूप से वर्जित) कहानियों को डील किय, लेकिन काफी खूबसूरती से, जो मेरी कंटेंट च्वायस को मान्यता देते हैं। मुझे सोशल ड्रामा करने में मजा आता है क्योंकि मैं सामाजिक रूप से एक जागरूक इंसान हूं।

 

bhumi pedenekar said she does not have any formula to choose script

इस साल फिल्मों से मचाएंगी धमाल
बात करें भूमि की आने वाली फिल्मों की तो फिलहाल उनकी झोली पांच बड़ी फिल्में हैं। ‘पति-पत्नी और वो’, ‘डॉली किटी और चमकते सितारे, ‘तख्त’, ‘बाला’ और ‘सांड की आंख’। भूमि की ये सभी फिल्में अलग-अलग जोनर की है। अपनी इन फिल्मों को लेकर भूमि बहुत खुश हैं और उनका कहना है, ‘मैं लगातार प्रयोग करने के अवसर पा कर खुश हूं। मैं आज जहां हूं, उसे ले कर बेहद खुश हूं। मैं अपने शिल्प में बेहतर होना चाहती हूं और बेहतरीन सिनेमा करना चाहती हूं। जिसका लोग पूरी तरह से आनंद ले सके।’