अमरीका का बड़ा ऐलान, कहा- बेहतर व्यापार प्रस्ताव लाने के लिए भारत के लिए खुले दरवाजे

2
0 Shares

नई दिल्ली। अमरीका ने भारत से कहा है कि यदि वह व्यापार के क्षेत्र में बेहतर प्रस्ताव के साथ आगे आता है तो उसके लिए दरवाजे खुले हैं। अमरीका का मानना है कि द्विपक्षीय संबंधों में व्यापार परेशानी वाला क्षेत्र रहा है। इसे देखते हुए यदि भारत व्यापार और बेहतर बाजार पहुंच से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने के लिए गंभीर प्रस्ताव रखता है तो उसके लिए विकल्प खुले हैं।

यह भी पढ़ें: चुनाव से पहले अमरीका ने नरेंद्र मोदी को दिया बड़ा झटका, भारत से छिन सकती है GSP सुविधा

भारत का सबसे बड़ा निर्यात बाजार है अमरीका

बता दें कि पिछले साल नंवबर में ट्रंप सरकार ने भारत के साथ व्यापार से जुड़े मुद्दों पर सख्त रुख अपनाते हुए भारत से आयात होने वाले कम से कम 50 उत्पादों के आयात पर मिली शुल्क मुक्त रियायत को हटा दिया था। इनमें अधिकांश कृषि क्षेत्र के उत्पाद शामिल हैं। अमरीका के विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि अमरीका इस समय भारत का सबसे बड़ा निर्यात बाजार है और उसे भारत का अहम आर्थिक साझेदार होने पर गर्व है।

यह भी पढ़ें: 10 रुपए सस्ता LPG सिलेंडर खरीदने का शानदार ऑफर, बस करना होगा ये छोटा सा काम

7.1 फीसदी कम हुआ द्विपक्षीय व्यापार घाटा

आगे अधिकारी ने कहा कि ‘हम ऐसी नियामकीय दिक्कतों से जूझ रहे हैं जो अमरीकी कंपनियों और उत्पादों के लिए बाजार पहुंच और कारोबारी सुगमता के रास्ते में आड़े आती हैं।’ उन्होंने कहा कि, ‘वास्तव में व्यापार एक ऐसा क्षेत्र है, जो दोनों देशों के संबंधों में निराशा पैदा करता है लेकिन अगर भारत व्यापार के क्षेत्र में गंभीर प्रस्ताव लेकर आता है तो उसके लिए दरवाजे खुले हैं।’ अधिकारी ने कहा कि भारत सरकार के साथ करीब एक साल से बहुत अच्छे संबंध होने के बावजूद भारत ने यह आश्वस्त नहीं किया कि वह अमरीका को अपने बाजार में उचित और समान पहुंच प्रदान करेगा। इसी के चलते अमरीका ने भारत को तरजीही व्यापार व्यवस्था से बाहर कर दिया। अमरीका इस बात से खुश है कि भारत में अमरीका के बढ़ते निर्यात के कारण पिछले साल उनका द्विपक्षीय व्यापार घाटा 7.1 फीसदी कम हुआ।

 

Read the Latest Business News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में मेट्रो सिटी समाचार पर।

0 Shares