पहले टमाटर के लिए तरस रहा था पाकिस्तान, अब मिर्ची हुई 400 के पार

13

नई दिल्ली। हाल ही में हुए पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान सब्जियों के लिए तरस रहा है। पहले टमाटर के भाव वहां, आसमान पर पहुंच गए थे और अब मिर्ची के दाम भी 400 के पार पहुंच गए हैं। इतना ही नहीं, इमरान सरकार भी व्यापारियों पर इन दो सब्जियों को नहीं बेचने के चलते जुर्माना लगा रही है। पाकिस्तान में टमाटर और हरी मिर्च की सप्लाई भारत के अलावा सिंध और बलूचिस्तान प्रांत से होती है।

14 फरवरी को हुआ था हमला

आपको बता दें कि 14 फरवरी को हुए पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से भारत ने पाकिस्तान को सभी तरह की सब्जियों का निर्यात करने पर 200 फीसदी ड्यूटी लगा दी है। भारत के इश कदम से पाकिस्तान के लोगों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। इसके साथ ही वहां के लोगों का किचन का बजट भी बिगड़ गया है।

200 रुपए किलो मिल रहा टमाटर

भारत सरकार के द्वारा सब्जियों की आपूर्ति को बंद करने के बाद पाकिस्तान सब्जियों को लेकर काफी परेशान है। पाकिस्तान में पिछले साल इस समय पर टमाटर का भाव 24 रुपए प्रति किलो था जो अब 200 रुपए प्रति किलो मिल रहा है। हालत यह है कि दुकानों से टमाटर धीरे-धीरे गायब हो रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके खरीदार काफी कम हो गए हैं।

आसमान छू रहे मिर्ची के दाम

इसके साथ ही आपको बता दें कि अब टमाटर की तरह हरी मिर्च खाना भी पाकिस्तान के लोगों के लिए काफी भारी पड़ रहा है क्योंकि अब वहां मिर्च के दाम काफी बढ़ गए हैं। पिछले साल यही मिर्च पाकिस्तान में 100 रुपए से भी कम में मिल रही थी, जिसका दाम आज के समय में 400 रुपए प्रति किलो से भी ज्यादा हो गया है।

सरकार भी लगा रही है जुर्माना

आपको बता दें कि इमरान सरकार सब्जी बेचने वाले व्यापारियों पर इन दो सब्जियों को नहीं बेचने पर जुर्माना लगा रही है। लेकिन थोक मंडियों में मौजूद आढ़तियों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। सरकार ने इन दोनों वस्तुओं के लिए एक दर तय कर दी है और अगर कोई भी व्यापारी उस से ज्यादा कीमत पर सामान बेचता है तो सरकार उन पर जुर्माना लगा रही है।

Read the Latest Business News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में मेट्रो सिटी समाचार पर