नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में लगातार चौथे दिन शुक्रवार को भी तेजी का सिलसिला जारी है और तेल का दाम इस साल के शिखर पर चला गया है। ब्रेंट क्रूड का भाव 65 डॉलर प्रति बैरल को पार कर गया है जोकि नवंबर के बाद का सबसे उंचा स्तर है।

2019 में अब तक कच्चे ब्रेंट क्रूड के दाम में 20.76 फीसदी का इजाफा हुआ है। बाजार विश्लेषक बताते हैं कि तेल निर्यातक देशों के संगठन ऑगेर्नाइजेशजन ऑफ पेट्रोलियम एक्सपोर्टिग कंट्रीज (ओपेक) द्वारा कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती करने और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की मांग में इजाफा होने की उम्मीदों से कीमतों में जोरदार उछाल आया है।

कमोडिटी बाजार विश्लेषक बताते हैं कि वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के दाम में इजाफा होने से भारत में आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल की महंगाई बढ़ेगी। ब्रेंट क्रूड के भाव में इस सप्ताह तकरीबन पांच फीसदी की तेजी आई है, जबकि अमेरिकी लाइट क्रूड डब्ल्यूटीआई के दाम में 2.73 फीसदी की वृद्धि हुई है।

एंजेल ब्रोकिंग हाउस के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि अमरीका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव दूर करने की दिशा में हुई वार्ता की प्रगति के साथ-साथ ओपेक द्वारा तेल की आपूर्ति में कटौती किए जाने से कीमतों में तेजी आई है। उधर, वेनेजुएला और ईरान पर अमरीकी प्रतिबंध से भी कच्चे तेल के दाम को सपोर्ट मिल रहा है।

ओपेक के प्रमुख सदस्य सउदी अरब ने कहा कि वह अगले महीने तेल की आपूर्ति में और कटौती कर सकता है। गौरतलब है कि ओपेक व रूस के बीच रोजाना 1.2 लाख बैरल तेल की आपूर्ति कम करने पर सहमति बनी थी।

वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के आई जबरदस्त तेजी से भारतीय वायदा बाजार में भी कच्चे तेल के दाम में तेजी आई है। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज(एमसीएक्स) पर कच्चे तेल के चालू महीने में एक्सपायरी वायदा अनुबंध 30 रुपए यानी 0.78 फीसदी की तेजी के साथ 3,897 रुपए प्रति बैरल पर बना हुआ था। कच्चे तेल के अन्य वायदे में भी एमसीएक्स पर तेजी दर्ज की गई।

वहीं, अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर बेंट क्रूड के अप्रैल डिलीवरी अनुबंध में पिछले सत्र के मुकाबले 0.42 फीसदी की तेजी के साथ 64.84 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले भाव 65.10 डॉलर प्रति बैरल तक उछला जोकि इस साल का सबसे उंचा स्तर है।

न्ययार्क मर्के टाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट यानी डब्ल्यूटीआई के मार्च सौदे में 0.37 फीसदी की बढ़त के साथ 54.61 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। इससे पहले डब्ल्यूटीआई के वायदा सौदे में 54.92 डॉलर प्रति बैरल तक का उछाल आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here