नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के बीच भारत सरकार की ओर बड़ा फैसला लिया गया है। कल से यानी 19 अप्रैल से भारत-पाकिस्तान के बीच लाइन ऑफ कंट्रोल के जरिए होने वाले व्यापार को बंद कर दिया जाएगा। गृह मंत्रालय के अनुसार एलओसी पर अवैध कारोबार की सूचना मिल रही थी। जिसकी वजह निर्णय लिया गया है। पाकिस्तान ? के अराजक तत्वों के द्वारा सीमा पार से अवैध हथियार, नशीला सामान, फेक करेंसी भारत में भेजे जाते हैं। चुनावों के बीच भारत सरकार का यह फैसला काफी बड़ा माना जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः- Share Market: शेयर बाजार में गिरावट से निवेशकों के 70 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान

गृह मंत्रालय ने दी जानकारी
गृह मंत्रालय द्वारा दी जानकारी के अनुसार एनआईए द्वारा कुछ मामलों की चल रही जांच के दौरान पता चला है कि एलओसी के रास्ते होने वाले व्यापार में कुछ चिंताजनक व्यापारिक कार्यों को अंजाम देने वाले लोग आतंकवाद-अलगाववाद को बढ़ावा देने वाले प्रतिबंधित आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं। जिसकी वजह से यह फैसला लिया गया है कि एलओसी के जरिए होने वाले व्यापार को बंद कर दिया जाए। सरकार ने जम्मू कश्मीर में कल से दो जगहों पर नियंत्रण रेखा ( एलओसी ) के पार व्यापार बंद करने की घोषणा की।

यह भी पढ़ेंः- सोना वर्ष के निचले स्तर पर पहुंचा, चांदी में 105 रुपए प्रति किलोग्राम की कमजोरी

इन जगहों से किया जाएगा व्यापार बंद
सरकार की ओर से जिन दो जगहों से व्यापार बंद करने का फैसला लिया है वो जम्मू-कश्मीर में सलामाबाद और चाकन-दा-बाग हैं। कल से इन दोनों जगहों से व्यापार को बंद कर दिया जाएगा। इस बीच, विभिन्न एजेंसियों के परामर्श के बाद सख्त विनियामक और प्रवर्तन तंत्र विकसित कर लागू कर दिया जाएगा। इसके बाद एलओसी व्यापार को खोलने के मुद्दे पर फिर से विचार किया जाएगा।

 

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here