बिहार में सियासी घमासान के बीच तेजप्रताप को मिली जान से मारने की धमकी, FIR दर्ज

पटना। बिहार में सियासी घमासान का दौर जारी है और अब यह जंग केवल राजनीतिक विरोधियों के बीच नहीं बल्कि लालू परिवार में भी पहुंच गया है। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने अपनी पार्टी और छोटे भाई तेजस्वी यादव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस बीच तेजप्रताप यादव को जान से मारने की खबर आने के बाद से सियासी पारा चढ़ गया है। इस बीच तेज प्रताप ने आरजेडी के ही एक नेता पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है। इस बाबत तेजप्रताप ने फोन पर हत्या की धमकी देने को लेकर एफआईआर भी दर्ज कराई है।

फोन पर मिली हत्या की धमकी: तेजप्रताप

बता दें कि तेजप्रताप ने कहा है कि उनके निजी सचिव के मोबाइल पर एक कॉल आया जिसपर उन्होंने मुझे जान से मारने की धमकी दी। धमकी देने वाले शख्स ने खुद को गोह से राजद का एक सक्रिय नेता बताया। अब इससे को लेकर तेजप्रताप ने पटना सचिवालय थाना में एफआइआर दर्ज करा दी है। इसको लेकर पुलिस भी हरकत में आ गई है और जांच प्रक्रिया शुरू कर दी है। फिलहाल भी तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है कि धमकी देने वाले शख्स का नाम किया है और कहां से कॉल किया था। साथ ही धमकी देने का मकसद किया था?

राहुल गांधी 4 अप्रैल को वायनाड लोकसभा सीट के लिए भरेंगे पर्चा, प्रियंका गांधी भी होंगी साथ

तेजप्रताप ने बनाया लालू-राबड़ी मोर्चा

मालूम हो कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर टिकटों के वितरण और अपने चहेते प्रत्याशियों को मैदान में उतारने को लेकर महागठबंधन में तकरार काफी बढ़ गया। लिहाजा आरजेडी में भी दोनों भाईयों के बीच दो फाड़ हो गया। तेजप्रताप के मुताबिक प्रत्याशियों का चयन नहीं होने के कारण उन्होंने ‘लालू राबड़ी’ नाम से एक अलग मोर्चा बना लिया। अब आरजेडी के प्रत्याशियों के खिलाफ ही अपने प्रत्याशियों को मैदान में उतारने की घोषणा की है। साथ ही यह भी कहा है कि यदि परिस्थिति विपरित रहा तो वे निर्दलीय चुनाव भी लड़ेंगे।

Read the Latest Crime news in hindi on Metro City Samachar.com. पढ़ें सबसे पहले Crime samachar मेट्रो सिटी समाचार डॉट कॉम पर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here