आर.पी.एफ. ने 3 शातिर चोरो को किया गिरफ्तार

8

पालघर:रेल यात्रियों को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने हेतु रेल विभाग हमेशा तत्पर रहता है। यात्रा के दौरान यात्रियों के साथ किसी भी प्रकार की अप्रिय घटनाए न घटे उसके लिए स्टेशन और ट्रेनों मे रेल पुलिस के जवान तैनात रहते है। नालासोपारा,विरार और दहाणु रेलवे स्टेशन के आरपीएफ ने 3 शातिर चोरो को गिरफ्तार किया है।

विरार रेलवे स्टेशन के आरपीएफ के इंचार्ज जी.एन.मल्ल ने बताया कि गुुरुवार को 2 बजे के आसपास प्लेटफार्म नं.02 पर स्थित कंट्रोल टावर के एसएसइ /एसआईजी/वीआर के कार्यालय से एसएसइ /एसआईजी/वीआर जुबेर अहमद अंसारी ने किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनका मोबाईल चोरी होना बताया। इसके बाद स.उ.नि.यशवंतलाल प्रजापति व कांस्टेबल दैहिक को प्लेटफार्म नं 02 पर एक संदिग्ध व्यक्ति दिखाई देने पर उससे पूछताछ की.

उसने बताया कि उसे नालासोपारा जाना है,जिसपर उसे जाने दिया,लेकिन वह घूमते रहा और पश्चिम शहरी क्षेत्र की तरफ निकल गया।बाद मे संदेह के आधार पर उस व्यक्ति को खोजने पर वह शहरी क्षेत्र म सडक पर दिखाई दिया,जिसे लेकर विरार आरपीएफ कार्यालय लाया गया,जहा स.उ.नि.यशवंतलाल प्रजापति ने पूछताछ कि तो उसने अपना नाम बताया कि सूरज संतोष यादव (18 ),निवासी – संखेश्वर नगर,नालासोपारा (पूर्व ) स्थित का है .आरपीएफ ने आरोपी संतोष की तलाशी ली तो उसके पास क्रीम कलर का मोबाईल बरामद हुआ।

आरोपी ने बताया कि यह मोबाईल प्लेटफार्म नं 02 के रेलवे के पहले माले के ऑफिस से चुराया हूँ। एसआईजी/वीआर को बुलाकर मोबाईल दिखाया तो अपना होना बताया। जिसके बाद आरपीएफ ने आरोपी को वसई जीआरपी पुलिस के हवाले कर दिया है।

नालासोपारा रेलवे स्टेशन आरपीएफ निरीक्षक आर.के.राय ने बताया कि शुक्रवार को लगभग 8 बजे के आसपास आरपीएफ अधिकारी विनोद शर्मा और कांस्टेबल धर्मबीर सिंह द्वारा नालासोपारा स्टेशन पर गुप्त निगरानी रखी हुई थी।इसी बीच प्लेटफार्म नं 02 पर एक यात्री का मोबाईल चुरा रहे एक व्यक्ति को धर दबोच लिया। आरपीएफ ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी का नाम अब्दुल अहमद मोहम्मद (28 ) वर्ष,निवासी – नालासोपारा (पूर्व ) का रहने वाला है।

उसके पास से 15500 रूपये का मोबाईल मिला और उसने मोबाईल चोरी करने का गुन्हा कबूला।आरपीएफ ने आरोपी को जीआरपी वसई को सौप दिया है। डहाणू रेलवे स्टेशन के इंचार्ज बंसत राय ने बताया कि विरार-दहानू ट्रेन स्थित प्लेटफार्म नं 03 पर आकर रुकी थी। रेलवे स्टेशन पर गस्त कर रहे एएसआई वेदप्रकाश और हेड कांस्टेबल गफ्फूर शेख ने संदिग्ध अवस्था में एक व्यक्ति को धर दबोचा।

जिसका नाम सनी मराठी रामसिंह विश्वकर्मा निवासी – नारायण चाल,डूंगरापाड़ा कामन,वसई (पूर्व ) स्थित बताया। तभी आरपीएफ ने देखा कि ट्रेन के अंदर एक यात्री सो रहा है। उसे उठाया गया तो उसने अपना जेब चेक किया तो मोबाईल गायब था। आरपीएफ संदिग्ध व्यक्ति सनी की तलाशी ली तो उसके पास से एक मोबाईल बरामद किया। आरपीएफ ने आरोपी सनी से पूछताछ की तो उसने चोरी करने की गुन्हा कबूल लिया और आगे की कार्रवाई के लिए जीआरपी के हावले सुपुर्द कर दिया है।

विरार आरपीएफ द्वारा वर्ष 2018 में 21 एफआईआर दर्ज किया था,जिसमे 25 चोर को धर दबोच लिया था। तथा वर्ष 2019 में अबतक 5 एफआईआर दर्ज कर 5 चोर को गिरफ्तार किया है । नालासोपारा आरपीएफ ने वर्ष 2018 में 29 एफआईआर दर्ज करते हुए 28 चोर को गिरफ्तार किया था, और वर्ष 2019 वतर्मान वर्ष में अबतक 14 एफआईआर दर्ज व 11 चोरो को गिरफ्तार कर चुकी है।

डहाणू रेलवे स्टेशन आरपीएफ ने वर्ष 2018 में 2 एफआईआर दर्ज में 2 आरोपी,जिसमे चोरी और लूट का माल और ज्वेलरी कुलमिलाकर 105000 रूपये का मॉल जप्त की थी। वही वर्ष 2019 में 2 एफआईआर दर्ज करते हुए 2 आरोपियों के पास मोबाईल और बैग चोरी तथा 10600 रूपये का मॉल बरामद करने में सफलता पा चुकी है। विरार आरपीएफ (स.सु.आयुक्त) एस.मिश्रा ने बताया कि आरपीएफ काम कर रही है,टीम वर्क है,सभी लोग पूरी सुरक्षा के लिए तत्पर है।