बुआ से इश्क में फंसा कारपेंटर, शादी को तैयार नहीं था परिवार फांसी लगाई

5
बुआ से इश्क में फंसा कारपेंटर, शादी को तैयार नहीं था परिवार फांसी लगाई
0 Shares

ग्वालियर। रिश्तेदार महिला से शादी की जिद पूरी नहीं हुई तो कारपेंटर ने फांसी लगा ली। सुबह चाची चाय देने गई तब घटना पता चली। कमरे की सर्चिंग में शव के पास मोबाइल मिला है। उसे पुलिस ले गई। कारपेंटर दीपावली पर दिल्ली से घर आया था। उसके बाद वापस नहीं लौटा। जिस महिला से शादी की जिद कर रहा था वह रिश्ते में उसकी बुआ लगती है, इसलिए परिवार उससे शादी के लिए तैयार नहीं था।

प्रदीप मीणा निवासी कमाठीपुरा ने बताया भतीजे निशांत उर्फ नीशू साहू (25) पुत्र राजेन्द्र ने गुरुवार सुबह फांसी लगा ली। निशांत दिल्ली में रहकर कारपेंटर का काम करता था। दीपावली पर घर आया था। उसके बाद दिल्ली वापस नहीं लौटा। शादी की जिद कर रहा था, लेकिन यह रिश्ता संभव नहीं था। क्योंकि जिस महिला से शादी करना चाहता था वह रिश्ते में नीतेश की बुआ लगती है और शादीशुदा भी है। इसलिए उसे समझाया था कि उसे भूल जाए, किसी और लडक़ी से उसकी शादी कराएंगे। लेकिन नीतेश इसके लिए तैयार नहीं था। बुधवार को भी दिन में इसी मसले पर उसे काफी समझाया था। उसके बाद नीतेश सामान्य हो गया। शाम को बच्चों के साथ छत पर बैडमिंटन खेला। रात को खाना खाकर सोने गया। सुबह चाची इंद्रा साहू उसे चाय देने गईं तो नीतेश के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। उन्होंने नीतेश को आवाज लगाई, लेकिन उसने जवाब नहीं दिया। कई बार दरवाजा खटकाने पर नीतेश ने कुंडी नहीं खोली तो शक हुआ। धक्का देकर गेट को टेड़ा किया तो अंदर नीतेश का शव फंदे पर लटकता दिखा।उसके सुसाइड करने का पता चलने पर पुलिस ने उसके कमरे की तलाशी ली। आशंका थी नीतेश ने सुसाइड नोट लिखा होगा। लेकिन सर्चिंग में कुछ नहीं मिला। शव के पास नीतेश का मोबाइल फोन रखा था। पुलिस उसे ले गई है।

तीन बार छोड़ चुका था नौकरी

प्रदीप ने पुलिस को बताया कि प्रदीप शादीशुदा रिश्तेदार महिला के इश्क में दीवाना हो चुका था। इस झंझट में फंसकर उसने तीन नौकरियां भी छोड़ी थीं। उसे कई बार समझाया था कि कहीं और उसकी शादी कर देते हैं, परिवार के साथ जिदंगी बिताए लेकिन वह मानने को तैयार नहीं था।

0 Shares