देश में जल्द ही मोबाइल फोन यूजर्स को केवल शुरुआती 2 रुपए के मामूली भुगतान पर मोबाइल इंटरनेट उपलब्ध होगा। टेलीकॉम नियामक ट्राई ने देशभर में सार्वजनिक वाई-फाई हॉटस्पॉट स्थापित करने की योजना बनाई है। अंतिम छोर तक मोबाइल इंटरनेट पहुंचाने की इस प्रायोगिक परियोजना के लिए निजी कंपनियों को न्योता दिया गया है। इन हॉटस्पॉट के माध्यम से 2 रुपए की शुरुआती कीमत पर वाई-फाई सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। 

ट्राई वाई-फाई हॉटस्पॉट सुविधा वाले सार्वजनिक डाटा कार्यालय (पीडीओ) बनाना चाहती है, जहां आप अपनी जरूरत के अनुसार इंटरनेट ‘पे एज यू गो’ (उपयोग के अनुसार भुगतान करो और जाओ) सुविधा का लाभ उठा पाएंगे। शुरू में यह योजना पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू की जाएगी। सैशे साइज के डाटा पैक की कीमत 2 से 20 रुपए तक होगी।

वाई-फाई हॉटस्पॉट में हम काफी पीछे… 

भारत में सार्वजनिक वाई-फाई हॉटस्पॉट 31,000 ही हैं, जबकि विदेशों में यह संख्या हमसे कई गुणा ज्यादा है। फ्रांस में सार्वजनिक वाई फाई की संख्या करीब 1.3 करोड़ तो अमरीका में एक करोड़ है।

पंजीकरण कराकर उठाएं ‘वानी’ का लाभ

सार्वजनिक डाटा कार्यालयों में वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (वानी) स्थापित किए जाएंगे। आप केवाईसी और मोबाइल के वन टाईम पासवर्ड के जरिए पंजीकरण कराकर डाटा पैक खरीद पाएंगे। योजना के लिए कंपनियों को 25 जुलाई तक अपने विवरण भेजने होंगे।

सस्ती सेवा से तेजी से जुड़ेंगे नए ग्राहक

इस सस्ती इंटरनेट डाटा सुविधा से तेजी से नए ग्राहक जुड़ेंगे। साथ ही साथ कम मूल्य वर्ग के डाटा पैके के कारण भारतीय टेलीकॉम बाजार में इंटरनेट डाटा का उपभोग बढ़ेगा। 

कार्यालय खोलने को कंपनियां आमंत्रित

ऐसे पीडीओ देश में मोबाइल युग और सस्ती टेलीकॉम सुविधाओं के पहले पीसीओ के जैसे होंगे। मोबाइल युग के पहले हर गली चौराहों, नुक्कड़ों पर खुले पीसीओ के जरिए पूरे देश में लोग एक-दूसरे से कनेक्टेड रहते थे। इस योजना के तहत देश में ‘पे एज यू गो’ सार्वजनिक डाटा कार्यालय खोलने के लिए इच्छुक कंपनियों को ट्राई ने आमंत्रित किया है। इस योजना के तहत लोग इन कार्यालयों में 2 से 20 रुपए में इंटरनेट सुविधा का लाभ उठा सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here