सड़क हादसों में मार्केटिंग इंस्पेक्टर समेत सात की मौत, आधा दर्जन से अधिक घायल

2

फतेहगंज पूर्वी और अलीगंज में शुक्रवार को हुए दो सड़क हादसों में शाहजहांपुर के रोजा में तैनात शहर निवासी मार्केटिंग इंस्पेक्टर कपिल देव समेत सात लोगों की मौत हो गई। सात लोग जख्मी भी हुए हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

शहर के जाटवपुरा निवासी मार्केटिंग इंस्पेक्टर कपिल देव (37) रोज की तरह ऑल्टो कार से शाहजहांपुर जा रहे थे। कार संजय नगर निवासी उनका ड्राइवर प्रेम (40) चला रहा था। दोपहर 12 बजे फतेहगंज पूर्वी कस्बे से पहले उचसिया मोड़ पर उल्टी दिशा से आ रहे ट्रैक्टर ने कार में टक्कर मार दी। हादसे में दोनों बुरी तरह घायल हो गए। बरेली लाने से पहले ही दोनों की मौत हो गई। 

वहीं, दोपहर एक बजे अलीगंज कस्बे के पास मुसाफिरों से भरे टेंपो और पिकअप में भिड़ंत हो गई। कैंट के मोहनपुर निवासी अजय अपनी बहन ममता को लेकर टेंपो से उसकी ससुराल अलीगंज के गांव अनिरुद्धपुर जा रहे थे। ममता के बच्चे सत्यम (6), केशव (7) और कार्तिक (10) भी साथ थे। सिरौली मार्ग पर हनुमान मंदिर के पास सामने से आ रही तेज रफ्तार पिकअप से टेंपो की टक्कर हो गई। जिला अस्पताल ले जाते वक्त ममता और केशव की मौत हो गई। टेंपो में बैठे मैन गौंटिया निवासी मजदूर कुंवरपाल ने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। 

दोनों वाहनों की भिड़ंत में साइकिल सवार दो लोग भी हादसे का शिकार हो गए। साइकिल पर अलीगंज के कमालपुर निवासी सूरजपाल और उनकी पत्नी श्रीवती थीं। दोनों की जिला अस्पताल लाते वक्त मौत हो गई। टेंपो सवार एक अन्य युवक की भी मौके पर मौत हो गई, शाम तक जिसकी शिनाख्त नहीं हो सकी। सातों शव जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिए गए हैं। वहीं घायलों का हालचाल जानने को सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह पहुंचे। डीएम और एसपी देहात ने भी अस्पताल पहुंचकर जानकारी ली।