नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची के साथ हुई रूह कंपा देने वाली घटना का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि उज्जैन के महाकाल थाना अंतर्गत भी एक ऐसी ही दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक 5 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ बलात्कार के बाद उसके सिर पर ईंट से वार करके उसकी हत्या कर दी गई और फिर लाश को नदी में फेंक दिया गया. मिली जानकारी के मुताबिक बच्ची 6 जून की रात को अपने पिता के साथ सो रही थी, कि तभी रात को 2 बजे जब बच्ची के दादा की आंख खुली तो वह वहां पर नहीं दिखी. जिसके बाद रात भर बच्ची को ढूंढा गया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका.

जब बच्ची का रात भर कुछ पता नहीं चल सका तो पुलिस को इसकी जानकारी दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्ची की तलाश शुरू कर दी और दोपहर को बच्ची का शव क्षिप्रा नदी में मिला. पुलिस को जब बच्ची का शव मिला उसके शरीर पर एक भी कपड़े नहीं थे और पूरा शरीर खून से लथपथ था. बच्ची पर ईंट के साथ ही बोतलों से भी वार किया गया था. जिसके बाद सनसनी खेज हत्या के मामले को गंभीरता से लेते हुए उज्जैन एसपी ने एसआईटी का गठन कर दिया था, जिसने तत्परता दिखाते हुए तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है. जिसमें से एक बच्ची का चाचा भी शामिल है. 

एसपी का कहना हे की बच्ची ईंट भट्टे से गायब हुई थी जिसका शव दूसरे दिन भूखी माता के समीप क्षिप्रा नदी से मिला था. घटना के बाद से ही पुलिस आरोपी की तालाश कर रही थी. पुलिस को बच्ची के शव से कुछ दूर एक ईंट और शराब की बॉटल मिली थी. पुलिस ने रात्रि में ही ईंट भट्टे से तीन संदिग्धों को हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि इसमें से एक मृतक बच्ची का चाचा है. इधर पुलिस के हाथ पक्के साबुत लगे हैं की इन्हीं तीनो ने बच्ची की ह्त्या की है, लेकिन अबी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ या नहीं, फिलहाल पुलिस मेडिकल रिपोर्ट के इंतजार में है और इसके बाद ही सख्त कदम उठाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here