29.6 C
Mumbai
Monday, July 13, 2020

International Day of Happiness: इन देशों के लोग हैं सबसे अधिक खुशहाल, सूची में बहुत पीछे है भारत

विज्ञापन
Loading...

Must read

भारतीय सीमा, दक्षिण चीन सागर और हांगकांग में चीनी कार्रवाई ‘उकसाने, अस्थिर करने वाली: रिचर्ड वर्मा

अमेरिका के पूर्व शीर्ष राजनयिक ने भारत के साथ लगने वाली सीमा के पास और दक्षिणी चीन सागर, ताइवान जलडमरूमध्य और हांगकांग में चीन...

सुप्रीम कोर्ट ने शाही परिवार को सौंपा श्री पद्मनाभ मंदिर का खजाना सौंपा, वही करेगा देखभाल

सुप्रीम कोर्ट ने केरल के ऐतिहासिक श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर के प्रशासन में त्रावणकोर शाही परिवार के अधिकार को बरकरार रखा। श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

संयुक्त राष्ट्र। हर साल 20 मार्च को अंतरराष्ट्रीय खुशहाली दिवस मनाया जाता है। इस दिन का दुनिया में खास महत्व है। इंसान जो भी कर्म करता है, वह अच्छे जीवन और अपनी खुशी के लिए करता है। वैसे भी जीवन की आपाधापी और तमाम चुनौतियों के बीच सबसे मुश्किल काम खुश रहना है। जीवन के रोजमर्रा के तनावों के बीच हर व्यक्ति किसी न किसी वजह से उदास है। तनाव कई बीमारियों को जन्म देता है। जबकि हर हाल में खुश रहने से जिंदगी न केवल बेहतर हो जाती है बल्कि इससे स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के कई देशों में लोगों की खुशी का स्तर बेहद कम है। मतलब यह हुआ कि बहुत से देशों के लोगों को अवसाद में रहना पड़ता है। लेकिन कुछ देशों के लोग हमेशा खुश रहते हैं और उनकी खुशहाली का स्तर दुनिया के कई देशों से काफी बेहतर है। आइए जानते हैं कि वो कौन से देश हैं जहां खुशहाली का स्तर बाकी देशों से अच्छा है।

1-फिनलैंड

ग्लोबल हैप्पीनेस इंडेक्स में सबसे पहला नाम फिनलैंड का आता है। कुल 55 लाख की आबादी वाला यह देश दुनिया के सबसे खुशहाल देशों में शुमार है। इस देश में क्राइम का रेट भी बेहद कम है। वर्ष 2015 में यहां केवल 50 मर्डर हुए थे जबकि 2018 में यहां 38 केवल हत्याएं हुई हैं। यहां की पुलिस बहुत भरोसेमंद और सक्षम है। इस देश में कानून का पालन सख्ती से होता है। यहां के नागरिक अपने देश की पुलिस पर भरोसा करते हैं। यहां के नेता देश की नीतियां इस तरह बनाते हैं जिससे देश की तरक्की होती है।

2-नॉर्वे

इस सूची में नार्वे को दूसरा स्थान मिला है। नॉर्वे अपने पयर्टकों के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है। यहां का ब्रिगेन बंदरगाह विश्व भर में प्रसिद्ध है। हर साल हजारों पर्यटन यहां के लिए आते हैं। नार्वे को अर्ध रात्रि के सूर्य का देश कहा जाता है।यहां लोग बेहद खुशहाल हैं। यह देश अपनी सस्ती चीजों के लिए जाना जाता है।

3- डेनमार्क

यूरोपीय देश डेनमार्क खुश रहने की सूची में तीसरे पायदान पर आता है। डेनमार्क, आइसलैंड के बाद दुनिया का सबसे शांत देश है। यह विश्व के सबसे कम भ्रष्ट देशों में से है। न्यूज़ीलैंड और स्वीडन के साथ इसका स्थान पहला है। डेनमार्क के बारे में कहा जाता है कईलोग अब भी यहां घरों में ताले नहीं लगाते। यहां दुनिया में सबसे कम ह्रदय रोगी पाए जाते हैं।

4- आइसलैंड

खुशहाल देशों की सूची में उत्तरी अटलांटिक देश आइसलैंड चौथे नंबर पर है। आइसलैंड अपने पर्यटन के मशहूर है। हर साल लगभग 10 लाख पर्यटक आते हैं। हाल के वर्षों में आइसलैंड के पर्यटन उद्योग में तेजी आई है।यह देश अपनी आइसहॉकी के लिए जाना जाता है।

5- स्विट्ज़रलैंड

यूरोप का छोटा देश स्विट्ज़रलैंड दुनिया का 5वां सबसे खुशहाल देश माना जाता है। आल्प्स पर्वतों की ऊंचाई से ढका हुआ यह देश अपने प्राकृतिक नजारों के लिए मशहूर है। इस देश में बहुत ही खूबसूरत नजारे हैं। यहां के लोगों का जीवन स्तर दुनिया में सबसे बेहतर है। स्विट्ज़रलैंड अपनी घड़ियों और चॉकलेट के लिए बहुत मशहूर हैं।

भारत कितना खुशहाल ?

संयुक्त राष्ट्र की 2018 की रिपोर्ट के अनुसार सर्वाधिक खुशहाल देशों की वैश्विक सूची में भारत 133 वें पायदान पर है। आंकड़े बताते हैं कि भारत में खुशहाली की स्थित दुनिया के कई देशों के मुकाबले काफी नीचे है। यहां तक कि पाकिस्तान और नेपाल जैसे देश भी भारत से बेहतर स्थिति में हैं। 2017 में भारत का स्थान 122 वां था। रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में बढ़ते भ्रष्टाचार और अपराध की वजह से 156 देशों में से इसे यह स्थान प्राप्त हुआ है। भारत में अवसाद और हृदय रोगियों की संख्या पर भी रिपोर्ट में चिंता जताई गई है।

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

भारतीय सीमा, दक्षिण चीन सागर और हांगकांग में चीनी कार्रवाई ‘उकसाने, अस्थिर करने वाली: रिचर्ड वर्मा

अमेरिका के पूर्व शीर्ष राजनयिक ने भारत के साथ लगने वाली सीमा के पास और दक्षिणी चीन सागर, ताइवान जलडमरूमध्य और हांगकांग में चीन...

सुप्रीम कोर्ट ने शाही परिवार को सौंपा श्री पद्मनाभ मंदिर का खजाना सौंपा, वही करेगा देखभाल

सुप्रीम कोर्ट ने केरल के ऐतिहासिक श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर के प्रशासन में त्रावणकोर शाही परिवार के अधिकार को बरकरार रखा। श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर...

अब सिप की तरह करें एनपीएस में निवेश, मिलता है 50000 रुपये का अतिरिक्त टैक्स छूट

राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) को बेहतर बनाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाएं हैं। इसमें निवेश अब आपके लिए और सुविधाजनक होने...