सोशल मीडिया पर पुरुष से महिला और महिला से पुरुष बनकर दोस्ती करने के बाद ठगी करने वाले 10 नाइजीरियाई नागरिकों को बिंदापुर थाना पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया है। 

आरोपियों ने लोगों से ठगी के लिए मोहन गार्डन इलाके में कॉल सेंटर खोल रखा था। गिरफ्तार आरोपियों में फिलिप, अगस्टाइम, फ्रैंकलिन, फिडेलिस, साइमन, साइमन, नेक्वे, चिनु, डेनियल, एमेनुएल शामिल हैं। पुलिस को एक डायरी मिली है, जिसमें लाखों रुपये की जमा-निकासी की बात सामने आ रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि ठगी की रकम 2 करोड़ से ज्यादा हो सकती है। 

पुलिस उपायुक्त आंटो अल्फोंस ने बताया कि टूर एंड ट्रेवल्स कंपनी में सेल्स एग्जीक्यूटिव का काम करने वाले नवादा निवासी राकेश ने बिंदापुर थाना पुलिस को शिकायत दी। पीड़ित ने बताया कि उसके नम्बर पर विदेश के नम्बर पर एक मैसेज आया। मैसेज करने वाली महिला ने अपना नाम अनिता ओएन बताया। उससे बातचीत होने लगी और दोस्ती हो गई। 
 बोली, भारत घूमना चाहती हूं : अनिता ने राकेश को बताया कि वह भारत घूमना चाहती है, जिसके लिए उसे टिकट बुक कराना है। दो अप्रैल को अनिता का संदेश आया कि वह मुंबई एयरपोर्ट पहुंच चुकी है और अब दिल्ली के लिए विमान से चलेगी। इसके बाद भारत के एक नंबर से कॉल आई कि अनिता के पास तय सीमा से अधिक विदेशी मुद्रा है। इसके लिए उसे रुपये देने होंगे। वह भारतीय मुद्रा का भुगतान करें अन्यथा अनिता को दिल्ली के लिए फ्लाइट पकड़ने नहीं दिया जाएगा। शिकायतकर्ता ने 45500 रुपये उस शख्स द्वारा बताए खाते में जमा कर दिए। उसके बाद फोन बंद हो गया। .

एक शिकार के लिए एक प्रोफाइल: आरोपी किसी युवक या युवती की आकर्षक तस्वीर लगाकर प्रोफाइल में खुद को बड़ा व्यापारी या किसी कंपनी में बड़ा अधिकारी बताते थे। दोस्ती हो जाने पर भारत आने की बात कहकर पीड़ितों को एयरपोर्ट अधिकारी बनकर फोन करते थे और फिर पैसा ठगने के बाद मोबाइल व सोशल साइट का अकाउंट बंद कर देते थे।

इस तरह पकड़े गए 
एसीपी डाबड़ी बिजेंद्र सिंह, बिंदापुर एसएचओ अनिल कुमार बरवाल की टीम ने जांच शुरू की। मोबाइल व इंटरनेट का आइपी एड्रेस मोहन गार्डन का मिलने पर छापा मारकर सभी आरोपियों को दबोच लिया। आरोपियों के पास से छह लैपटॉप, 48 मोबाइल फोन, 23 सिम कार्ड बरामद हुए हैं।

युवती का फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर फोटो और नंबर डाले
शाहदरा के जगतपुरी में एक युवती के नाम से फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर उसकी फोटो और मोबाइल नंबर डालने का मामला सामने आया है। 

पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने सोमवार को केस दर्ज किया। पीड़िता परिवार के साथ जगतपुरी इलाके में रहती है। वह एक निजी कंपनी में काम करती है। पीड़िता के अनुसार, चार मई से उसके पास अंजान लोगों के फोन आ रहे हैं। फोन करने वालों ने उसे बताया कि उसके फेसबुक पर नंबर देकर फोन व व्हाट्सएप करने के लिए कहा गया है। युवती ने पाया कि उसके नाम से फर्जी अकाउंट बनाया गया है।उस पर उसकी फोटो व नंबर है।

 … और भी हैं मामले 
– 4-10 मार्च 2018 : महरौली में अफ्रीकी देशों के नागरिकों के दो गुटों में चला विवाद, एक युवक की चाकू घोंपकर हत्या 
– 24 फरवरी 2018 : हेरोइन के साथ कुख्यात तस्कर बास्को समेत पांच गिरफ्तार 
– 21 अगस्त 2017 : उत्तम नगर में एक नाइजीरियन युवक को उसकी जानकार युवती ने चाकू घोंपा