आतंकी हमलों की साजिश का पर्दाफाश, तमिलनाडु में 3 संदिग्धों के ठिकानों पर NIA का छापा

0
48

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शनिवार को एक आतंकी गिरोह के भंडाफोड़ की जानकारी दी। एजेंसी ने बताया कि इस गिरोह ने देश में इस्लामिक शासन स्थापित करने के इरादे से आतंकवादी हमला करने की कथित रूप से साजिश रची व इसके लिए धन की व्यवस्था और अन्य तैयारी की।

आतंकवाद निरोधक जांच एजेंसी ने इस सिलसिले में शनिवार को तीन आरोपियों के चेन्नई और नागपट्टिनम जिले में स्थित परिसरों पर छापेमारी की। एनआईए ने एक विज्ञप्ति में कहा कि ऐसी विश्वसनीय सूचना मिली थी कि भारत और उसके बाहर रहकर आरोपियों ने आतंकवादी गिरोह अंसारूल्ला बनाकर भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रची और उसकी तैयारी की।

कश्मीर मुद्दा केंद्र के लिए सबसे अहम, अनुच्छेद 370 व 35 ए को लेकर मोदी सरकार निर्णायक मोड में

उसने कहा, ”यह भी पता चला है कि आरोपियों और उसके साथियों ने भारत में इस्लामिक शासन स्थापित करने के इरादे से आतंकवादी हमलों की साजिश रची और इसके लिए तैयारी की।” उसने कहा कि चेन्नई के निवासी (आरोपी नंबर 1) सैयद बुखारी (तमिलनाडु अंसारूल्ला मामले), नागपट्टिनम के हसन अली युनुसमारिकार (आरोपी नंबर 2) और मोहम्मद युसुफूद्दीन हरीश मोहम्मद (आरोपी नंबर 3) के खिलाफ नौ जुलाई, 2019 को मामला दर्ज किया गया।

उन पर आपराधिक साजिश, भारत के खिलाफ युद्ध छेड़ने समेत भादंसं की विभिन्न धाराओं तथा अवैध गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत आतंकवाद संबंधी धाराएं लगायी गयी। चेन्नई में एनआईए ने सैयद मोहम्मद बुखारी के मकान और कार्यालय तथा नागपट्टिनम जिले में हसन अली और हरीश मोहम्मद के मकानों की तलाशी ली। तलाशी के दौरान 15 सिमकार्ड, सात मेमोरी कार्ड, तीन लैपटॉप, पांच हार्डडिस्क, छह पेन ड्राइवर, दो टेबलेट, तीन सीडी/डीवीडी, दस्तावेज, मैगजीन, बैनर, नोटिस, पोस्टर और पुस्तकें बरामद की गयीं। तीनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।