ईटानगर

भारतीय वायुसेना के लापता विमान AN 32 का मलबा अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिले में देखा गया है। एयरफोर्स अधिकारियों, कमांडो और पर्वतारोहियों की एक टीम को बुधवार को घटनास्थल से थोड़ी दूर पर उतारा गया। हालांकि, खराब मौसम और वहां की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए यह टीम रातभर के लिए कैंप करेगी और गुरुवार को घटनास्थल की ओर रवाना होगी।

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को हेलिकॉप्टर्स की मदद से 15 पर्वतारोहियों को घटनास्थल से कुछ दूरी पर उतारा गया। इनके पास जरूरी साजो-सामान और हथियार मौजूद हैं। हालांकि, अभी खराब मौसम के चलते यह टीम अभी पहुंच नहीं सकती है। टीम रात भर के लिए कैंप करेगी और गुरुवार को हादसे वाली जगह पर पहुंचेगी।

पहाड़ी पार करने से पहले क्रैश हुआ AN-32?

an 32 crash site in arunachal pradeshs lipo
देखिए, वह इलाका जहां मिला AN-32 का मलबा
Loading



गायब हुए विमान में कुल 13 लोग सवार थे

गौरतलब है कि 3 जून को गायब हुए इस विमान में कुल 13 लोग सवार थे। विमान के गायब होने के बाद से ही एयरफोर्स के कई विमान इसकी तलाश करने में लगे हुए थे। बुधवार को पहली बार इस विमान का मलबा एक पहाड़ी पर देखा गया। यह जगह काफी ऊंचाई और घने जंगलों के बीच में है, ऐसे में रेस्क्यू टीम का यहां तक पहुंचना काफी चुनौतीपूर्ण काम है।

जहां प्‍लेन क्रैश हुआ वह बेहद रहस्‍यमय इलाका है

अरुणाचल प्रदेश का यह पहाड़ी इलाका बेहद रहस्‍यमय माना जाता है। यहां पहले भी कई बार ऐसे विमानों का मलबा मिला है, जो दूसरे विश्व युद्ध के दौरान लापता हो गए थे। अलग-अलग रिसर्च के मुताबिक, इस इलाके के आसमान में बहुत ज्यादा टर्बुलेंस और 100 मील/घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवा यहां की घाटियों के संपर्क में आने पर ऐसी स्थितियां बनाती हैं कि यहां उड़ान बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here