पश्चिम बंगाल की हिंसक राजनीति: सरकारें बदलती रहीं, सूबे में अराजक तत्व हावी रहे

0
26

सीपीएम के दौर में ऐसे अराजक तत्व कैडर कहलाते थे, लेकिन 2011 में वामपंथ का किला ढहा तो फिर सत्ताधारी दल तृणमूल कांग्रेस की ओ से ऐसे लोगों ने रुख कर लिया। अब इस चुनाव की बात की जाए तो ऐसे अराजक तत्व तृणमूल कांग्रेस के साथ ही बीजेपी में भी शामिल हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here